बेमेतरा : सड़क, पानी और बिजली की बजाए गांवों में लगाए जाएंगे मोबाइल टॉवर

बेमेतरा : सड़क, पानी और बिजली की बजाए गांवों में लगाए जाएंगे मोबाइल टॉवर

जिला पंचायत ने शासन को लौटाए पंचायतों को जारी 10 करोड़ 21 लाख रुपए

बेमेतरा. जिले के 367 पंचायतों को 14वें वित्त के तहत जारी की गई 10 करोड़ रुपए जिला पंचायत ने शासन को लौटा दी है। इस राशि का उपयोग संचार क्रांति योजना के तहत किया जाएगा। जिले के ग्राम पंचायतों को सड़क, पानी और बिजली सहित अन्य आवश्यकताओं के लिए अधोसंरचना मद से करोड़ों रुपए की राशि जारी की थी, जिसमें से अब संचार क्रांति योजना के तहत 70 फीसदी राशि 10 करोड़ 21 लाख रुपए पंचायतों से जिला पंचायत ने वापस ले लिया है। इस राशि का उपयोग मोबाइल टॉवर लगाने के लिए किया जाएगा, जिससे ग्रामीणों को हाईटेक इंटरनेट सेवा मिल पाएगी।

12 को जारी होगा प्लान
संचार क्रांति योजना का प्लान 12 जनवरी को जारी किया जाएगा। योजना के लिए पंचायतों से राशि लिए जाने की विरोध की चर्चा तो है, लेकिन किसी भी पंचायत से कोई खुलकर सामने नहीं आ रहा है। जिले के चारों ब्लॉक में सबसे ज्यादा मोबाइल टॉवर बेमेतरा ब्लॉक में लगाने की योजना है, जिसके लिए ब्लाक के 103 पंचायतों में से 100 पंचायतों से 2 करोड़ 66 लाख 87171 रुपए शासन ने वापस मांग लिए हैं। इसी तरह नवागढ़ ब्लॉक के 94 पंचायत में से 90 पंचायत के 2 करोड़ 54 लाख 54045 रुपए, साजा ब्लॉक 97 पंचायत में से 93 पंचायत के 2 करोड़ 42 लाख 30260 रुपए लिए गए। बेरला ब्लॉक के 93 पंचायतों में से 88 पंचायतों के 2 करोड़ 57 लाख 58022 रुपए वापस लिए गए हैं।

इन गांवों में नहीं मिलेगी सुविधा
बेमेतरा ब्लॉक के 3 पंचायत हेमाबंद, बगौद, उसलापुर को संचार क्रांति योजना में शामिल नहीं किया गया है। इसी तरह नवागढ़ ब्लॉक के सिवनी, घठोली, नेउर, धनौरा पंचायत को शामिल नहीं किया गया है। साजा ब्लॉक के 4 गांव - पातरझोरी, मोहगांव, बुधवारा, चेचानमेटा में शामिल है। बेरला ब्लॉक के 5 पंचायतों में सेवा नहीं मिलेगी, जिसमें बहिंगा, बहेरघट, अतरगढ़ी, बावनलाख, गाड़ामोर शामिल हैं। इस संबंध में जिला पंचायत के सीईओ एस आलोक ने बताया कि शासन के आदेश पर पंचायतों से राशि वापस लेकर भेज दी गई है। पंचायतों के पास अभी भी 14वें वित्त की 30 फीसदी राशि है।

Ad Block is Banned