खुले में शौच जा रही महिलाओं को महिला कमांडो ने रोका, तो सामने आया ये सच

Laxmi Narayan Dewangan

Publish: Jul, 12 2018 06:30:00 AM (IST)

Bemetara, Chhattisgarh, India
खुले में शौच जा रही महिलाओं को महिला कमांडो ने रोका, तो सामने आया ये सच

ग्राम पंचायत करचुवा में शौचालय निर्माण में गड़बड़ी, महिला कमांडो ने जिला प्रशासन से की निर्माण कार्य के जांच की मांग

बेमेतरा. ग्राम पंचायत में बनाए गए शौचालय सहित विभिन्न निर्माण कार्य की जांच कराए जाने की मांग ग्राम पंचायत करचुवा खण्डसरा की महिला कमांडो ने कलक्टर से किया है। जनपद पंचायत बेमेतरा के अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत करचुवा की सरपंच अमरीका बाई सहित महिला कमांडो अध्यक्ष रोशनी वर्मा, सुगरा खान, सरस्वती, ईश्वरी, झीना बाई, लीला बाई, इन्द्रा बाई, कृष्णा शकुन, लता, बुधवंतिन सहित 30 की संख्या में पहुंची महिला सदस्यों ने ग्राम पंचायत द्वारा ठेकेदार के माध्यम से बनाए गए शौचालयों के निर्माण में अनियमितता बरते जाने की शिकायत की।
शौचालय उपयोग के लायक नहीं
महिलाओं ने बताया कि वे ग्रामीणों को गांव को स्वच्छ व साफ-सुथरा बनाने व बाहर जाकर शौच न करने व घर के शौचालयों के उपयोग करने के लिए प्रेरित करते हुए 10-12 दिनों से सुबह-शाम गांव का भ्रमण कर रही हैं। भ्रमण के दौरान शौच करने जाने वालों को मना करने पर उन्होंने आपत्ति की कि ठेकेदार द्वारा जो शौचालय बनाया गया है, वह उपयोग करने के लायक नहीं है। शौचालय के गिर जाने का भय हमेशा बना रहता है। ग्रामीणों की शिकायत पर महिला कमांडो ने शौचालयों का अवलोकन किया तो निर्माण में भारी अनियमितता पाई।
किसी में दरवाजा नहीं तो किसी में टंकी
निरीक्षण में पाया कि कई शौचालयों में दरवाजा ही नहीं लगाया गया है, तो किसी के ढक्कन ही गायब है। पानी टंकी तो बनाया ही नहीं गया है। कई घर ऐसे हैं जहां शौचालय निर्माण के लिए नींव ही नहीं डाली गयी है, और कथित ठेकेदार ने राशि आहरित कर ली है। वहीं जिन परिवारों ने निजी खर्च कर शौचालय का निर्माण किया है, उन्हें आज तक प्रोत्साहन राशि नहीं मिली है, जबकि उनका सत्यापन कर जियो टेकिंग भी किया जा चुका है।महिला कमांडो ने शौचालय की जांच उनकी उपस्थिति में करने की मांग की है।

Ad Block is Banned