डाकघर का एकलौता रेलवे टिकट बुकिंग काउंटर दस दिन से बंद

डाकघर का एकलौता रेलवे टिकट बुकिंग काउंटर दस दिन से बंद

Laxmi Narayan Dewangan | Publish: Dec, 08 2018 11:40:47 PM (IST) | Updated: Dec, 08 2018 11:40:48 PM (IST) Bemetara, Bemetara, Chhattisgarh, India

धक्का-मुक्की से टिकट काउंटर का ग्लास टूट जाने के बाद पोस्टमास्टर ने थाना प्रभारी और एसपी से की सुरक्षा की मांग

बेमेतरा . डाकघर में रेल्वे टिकट बुकिंग काउंटर 10 दिन से बंद हो गई है। जिसकी वजह से जिले के रेल यात्रियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा। बंद काउंटर खोलने के लिए डाक विभाग ने पुलिस प्रशासन से सुरक्षा की मांग की है। काउंटर बंद होने के कारण रोजाना 70-80 हजार रुपए का कारोबार प्रभावित हो रहा है। रेल्वे की टिकट बुकिंग के लिए शहर के डाक घर में पांच साल से बुकिंग काउंटर संचालित किया जा रहा है। कभी लिंक फेल होने या फिर दीगर कारणों से काउंटर बंद होने की शिकायत सामने आती रही है। अब डाक विभाग द्वारा 28 नवंबर को कक्ष मे धक्का-मुक्की किए जाने और इस दौरान काउंटर का ग्लास टूट जाने के बाद पीआरएस रेलवे बुकिंग का कार्य बंद कर दिया गया है।

सिटी कोतवाली में मिली न्यायालय की शरण में जाने की सलाह
मामले पर डाक विभाग की ओर से बेमेतरा सिटी कोतवाली में प्रकरण दर्ज कराया गया है। मामले में तुगन सिंह राजपूत द्वारा सूचना दी गई थी पर सिटी कोतवाली में न्यायालय की शरण में जाने का मामला बताकर लौटा दिया गया है। जिसके बाद पोस्टमास्टर आरके टंडन ने बताया कि 28 नवंबर को शासकीय संपति को नुकसान पहुचाया गया है और शासकीय कार्य को प्रभावित किया गया है। जिसकी सूचना थाने को दी गई थी पर प्रकरण दर्ज नहीं किया गया है। पूरे घटनाक्रम के बाद थाना प्रभारी व एसपी को पत्र लिखकर डाकघर में सुरक्षा की मांग की गई है। सुरक्षा के अभाव में डाकघर में रेलवे टिकट बुकिंग का कार्य करना संभव नहीं है। ऐसे में जब तक सुरक्षा नहीं दी जाती बुकिंग का काम बंद रहेेगा।

अधिक रुपए देकर बुक कराना पड़ रहा टिकट
रेलवे टिकट बुकिंग काउंटर बंद होने से परेशान रोहित वर्मा, मन्नेन्द्र राव व प्रकाश वर्मा ने बताया कि हमें अधिक रुपए देकर टिकट बुक कराना पड़ रहा है। वहीं अजय पुरेना बताया कि शासकीय काउंटर में बुक कराने पर कोटा का लाभ मिल जाता है पर अब हमें इससे भी वंचित रहना पड़ रहा है। बुकिंग काउंटर बंद होने से 10 दिन से प्रभावित हो रहे हैं। वहीं किरण वर्मा व विवेक कोशले ने जिला मुख्यालय में दीगर कार्यालय में इस तरह की सुविधा देने की मांग की है। जिससे बार-बार होने वाली दिक्कतों से निजात मिल सके। रेलवे को प्रदेश में सर्वाधिक आय देने वाला काउंटर होने के बावजूद बार-बार संचालन संबंधी दिक्कतें आने से जिले के यात्रियों ने व्यवस्था दुरुस्त करने की मांग की है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned