डोंगरगढ़ माता के दर्शन करने जा रहे परिवार की कार पिकअप से टकराई, दो की मौत, पांच गंभीर रूप से घायल

डोंगरगढ़ स्थित मां बम्लेश्वरी माता के दर्शन करने जा रहे मुंगेली के दीक्षित परिवार की कार रविवार सुबह पिकअप से टकरा गई। दर्दनाक सड़क हादसे में दीक्षित परिवार के दो लोगों की घटना स्थल पर ही मौत हो गई।

By: Dakshi Sahu

Published: 01 Mar 2020, 10:21 AM IST

बेमेतरा. डोंगरगढ़ स्थित मां बम्लेश्वरी माता के दर्शन करने जा रहे मुंगेली के दीक्षित परिवार की कार रविवार सुबह पिकअप से टकरा गई। दर्दनाक सड़क हादसे में दीक्षित परिवार के दो लोगों की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। वहीं पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। बेमेतरा थाने से मिली जानकारी के अनुसार दुर्घटना आज सुबह लगभग 6 बजे बेमेतरा-नवागढ़ मार्ग पर स्थित कृषि कॉलेज के समीप हुई। टीआई राजेश मिश्रा ने बताया कि दुर्घटना में घायल एक ही परिवार के पांच लोगों को उपचार के लिए रायपुर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां विशेषज्ञ डॉक्टर उनका उपचार कर रहे हैं। (Road accident in Bemetara)

मुंगेली से निकला था परिवार
पुलिस ने बताया कि मुंगेली निवासी दीक्षित परिवार के सात लोग आल्टो कार में सवार होकर आज सुबह घर से डोंगरगढ़ जाने के लिए निकले थे। कार अपने रफ्तार से आगे बढ़ रही थी। इसी बीच बेमेतरा-नवागढ़ मार्ग में कार और पिकअप की आमने-सामने की टक्कर हो गई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि कार और पिकअप के परखच्चे उड़ गए। रास्ते से गुजर रहे लोगों ने दुर्घटना की सूचना तत्काल पुलिस को दी। जिसके बाद राहत और बचाव कार्य शुरू किया गया। पुलिस इस मामले में मर्ग कायम कर जांच में जुट गई है।

मजदूरों से भरी पिकअप पलटी
बालोद के गुरुर-धमतरी रोड में मनरेगा मजदूरों को लेकर लौट रही एक पिकअप अनियंत्रित होकर जगतरा के पास पलट गई। इस दुर्घटना में 19 मजदूरों को चोटें आई है। घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गंभीर रूप से घायल दो महिलाओं को रायपुर रिफर किया गया है। ग्राम पंचायत बालोदगहन के आश्रित गांव नैकुरा में मनरेगा के तहत सड़क निर्माण कार्य कराया जा रहा है। इस कार्य के लिए शनिवार सुबह 6 बजे गांव से महिला मजदूरों को ले जाया गया।

पूर्वान्ह 11 बजे तक काम करने के बाद सभी मजदूर लिफ्ट लेकर पिकअप क्रमांक सीजी 04 एचवाय-2956 से वापस गांव लौट रहे थे कि तभी जगतरा के पास पिकअप अनियंत्रित होकर पलट गई। वाहन के पलटते ही उसके नीचे कई महिला मजदूर दब गए। इससे उनमें हाहाकार मच गया। बस्तर रोड से गुजर रहे वाहन चालकों की जब उन पर नजर पड़ी, तो तत्काल गाड़ी रूकवा कर महिलाओं को वाहन के नीचे से निकाला। इस दुर्घटना में करीब 19 महिलाओं को चोटेंं आई है। खबर पाकर तत्काल ग्राम जगतरा के ग्रामीण मदद के लिए आए। पुलिस को भी खबर दी गई। गुरूर थाने से एसआई अरूण साहू दलबल के साथ पहुंचे। इसके बाद संजीवनी एम्बुलेंंस के जरिए सभी घायलों को धमतरी लाकर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डा. विभोर नंदा ने उन्हें त्वरित उपचार मुहैया कराया।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned