धान खरीदी केंद्र में अवैध धान खपाने पहुंचा था व्यापारी, आधी रात तहसीलदार ने छापा मारकर 3 वाहनों को किया जब्त

सेवा सहकारी समिति गाडाड़ीह में आधी रात को परसबोड़ के एक व्यवसायी अवैध धान खपाते हुए गाड़ाडीह के किसानों ने रंगे हाथ पकड़ लिया। (Dhan Kharidi in chhattisgarh)

By: Dakshi Sahu

Published: 18 Feb 2020, 01:45 PM IST

बेमेतरा. सेवा सहकारी समिति गाडाड़ीह में आधी रात को परसबोड़ के एक व्यवसायी अवैध धान खपाते हुए गाड़ाडीह के किसानों ने रंगे हाथ पकड़ लिया। रविवार की रात गाड़ाडीह समिति में व्यापारी का धान से भरा वाहन पकड़ा गया है। मामले की सूचना मिलते ही तहसीलदार साजा प्रफुल्ल रजक ने आधीरात में ही तत्काल मौके पर पहुंचकर कार्रवाई की है।

मालवाहक को किया जब्त
मालवाहक को जब्त कर परपोड़ी पुलिस को सौंपा गया है, तीन मालवाहकों में भरकर धान लाया गया था। केन्द्र में जांच के लिए तहसीलदार रजक ने डाटा एंट्री कक्ष को सील करा दिया है। गाड़ाडीह समिति के कर्मचारियों की मिलीभगत से रविवार को एक ओर जहां धान खरीदी बंद हो गई, वहीं व्यापारियों का धान खपाया जा रहा है। अनुमान लगाया जा रहा है कि जब्त वाहनों में हजारों बोरा धान भरा हुआ था। जिसे खपाने के लिए किए जा रहे प्रयास में मिलीभगत से इंकार भी नहीं किया जा सकता।

16 फरवरी को रात 10 बजे कोचियों की अवैध धान को समिति में खपाए जाने मामला सामने आया। ग्रामीणों के द्वारा जानकारी देने पर अधिकारी मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों की शिकायत पर तहसीलदार ने कार्रवाई की है। तहसीलदार रजक ने छापा मारकर धान को खाली करते समय वाहन को जब्त किया। तहसीलदार ने कार्रवाई करते हुए पंचनामा बनाया है।

गाड़ाडीह सोसाइटी में 12 फरवरी से धान खरीदी बंद है। जिसका कारण बारदाना नहीं होना बताया जा रहा है और किसानों को टोकन जारी किया जा रहा है। धान खरीदी की तिथि 2 दिन ही शेष है। तहसीलदार रजक ने बताया कि वाहनों को जब्त कर लिया गया है। जिस तरह की बात सामने आई है, उसे देखते हुए फड़ों में रखे धान का मिलान कराया जाएगा। टीआई परपोड़ी सीआर ठाकुर ने बताया कि साजा तहसीलदार के कहने पर रात में मेटाडोर जब्त किया गया है। मामले की पूरी जानकारी मुझे नहीं है।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned