शराबबंदी का नारा बुलंद करके फिर गांवों में एक्टिव हुईं महिला कमांडो, इस बार लाठी के साथ गांधीगिरी का नया फॉर्मूला

नवागढ़ ब्लाक में शराबियों को घर घुसने मजबूर करने वाली महिला कमांडो की टीम एक बार फिर अपने पुराने फार्म में लौटने लगी है। कोई दो साल बाद दो अक्टूबर को गांधी जयंती के अवसर पर नांदघाट थाना के ग्राम घोरहा से शंखनाद हुआ है।

By: Dakshi Sahu

Published: 04 Oct 2020, 05:53 PM IST

बेमेतरा/नवागढ़. नवागढ़ ब्लाक में शराबियों को घर घुसने मजबूर करने वाली महिला कमांडो की टीम एक बार फिर अपने पुराने फार्म में लौटने लगी है। कोई दो साल बाद दो अक्टूबर को गांधी जयंती के अवसर पर नांदघाट थाना के ग्राम घोरहा से शंखनाद हुआ है। सुबह महात्मा गांधी की पूजा व स्वच्छता अभियान में शामिल महिलाएं शाम होते ही अवैध शराब के खिलाफ मुखर हुईं। गांव में आवाज बुलंद कर यह संदेश दिया कि हम निकल गए हैं। घोरहा में मंदाकिनी, माया, चंद्रकली, सीमा, राजेश्वरी, लता के साथ सभी सदस्य सक्रिय हुए और रात आठ बजे से दस बजे तक गश्त किया। नवागढ़ ब्लाक में अवैध शराब की बिक्री, गांव में शराबियों की मनमानी व अन्य असमाजिक गतिविधियों पर लगाम लगाने में महिला कमांडो द्वारा किए गए कार्यों के बाद पुन: टीम को सक्रिय करने वाली अध्यक्ष शबीना खान ने कहा कि पूर्व में हुए कार्यो के परिणाम बेहतर निकले सीमित संसाधन में कमांडो टीम ने उल्लेखनीय कार्य किए हैं।

जिन ग्रामों को स्वच्छ करने में प्रशासन ने घुटने टेक दिए, वहां काकाम महिला कमांडो ने कर दिखाया। पूर्व के अधिकारियों ने प्रोत्साहित करने में कोई कमी नहीं की। वर्तमान में ब्लाक टीम को एक्टिवेट करने की जरूरत है, जिसका शुभारंभ हो चुका है। ग्राम मगरघटा, नारायणपुर, छेरकापुर, झालम, दर्री, तोरा सहित एक दर्जन गांव में कमांडो उल्लेखनीय कार्य कर रहे हैं। खान ने बताया कि कुंती साहू, सावित्री साहू हम नाम की दो सदस्य, ज्योति मार्कण्डेय, बीना साहू, करूणा जायसवाल, पुष्पा साहू एवं उत्तरा साहू सहित सैकड़ों सदस्य जन सेवा व सामाजिक सुधार में लगी हुई हैं।

दो साल बाद मैदान में उतरी टीम ने इस बार कार्य का तरीकाबदल दिया है नवागढ़ ब्लाक में इन दिनों गांव-गांव में शराब की बिक्री शुरू हो गई है। नवागढ़ नगर में ही सुबह सात बजे शराबी रिचार्ज हो जाते हैं। पुलिस उनको पकड़ती है जो उनके रिकार्ड में नए होते हैं। वर्तमान में अघोषित शराब की दुकान से गांव अशांत है। यही कारण है कि महिला कमांडो ने अब जिस गांव में शराब जुआ सट्टा का कारोबार चलन में है वही रैली व प्रदर्शन करने की योजना बनाई है।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned