अवैध रूप से भंडारित 65 बोरी यूरिया जब्त

घोड़ाडोंगरी में एक मकान में अवैध रूप से भंडारित 65 बोरी यूरिया जब्त किया गया है। यूरिया जब्त कर उक्त मकान सील कर दिया गया है एवं अवैध यूरिया की सुपुर्दगी वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी घोड़ाडोंगरी को दी गई है।बताया गया कि बाजारढाना के कृषक रूपेश वरकड़े के घर से यूरिया जब्त किया गया है।

By: Devendra Karande

Published: 03 Jan 2020, 05:03 AM IST

बैतूल। घोड़ाडोंगरी में एक मकान में अवैध रूप से भंडारित 65 बोरी यूरिया जब्त किया गया है। यूरिया जब्त कर उक्त मकान सील कर दिया गया है एवं अवैध यूरिया की सुपुर्दगी वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी घोड़ाडोंगरी को दी गई है।बताया गया कि बाजारढाना के कृषक रूपेश वरकड़े के घर से यूरिया जब्त किया गया है। कृषक द्वारा खेती के लिए इटारसी से यूरिया लाया जाना बताया जा रहा था लेकिन जब उससे दस्तावेज मांगे गए तो वह कोई दस्तावेज प्रस्तुत नहीं कर पाया। तहसीलदार मोनिका विश्वकर्मा ने कृषि विभाग को इस मामले की जांच के निर्देश दिए हैं। उल्लेखनीय हो कि इससे पहले भी जिला प्रशासन एवं कृषि विभाग के अधिकारियों द्वारा अवैध रूप से भंडारित एवं परिवहन किए जा रहे यूरिया को जब्त करने की कार्रवाई की गई थी। वर्तमान में डबल लॉक गोदामों में यूरिया निरंक होना बताया जा रहा है। जबकि समितियों में एक जनवरी को यूरिया १३५० मीट्रिक टन मौजूद था। जो लगभग खत्म हो चुका हैं। ऐसी स्थिति में यूरिया को लेकर कालाबाजारी पुन: बढ़ गई है। महाराष्ट्र से भी यूरिया लाकर जिले में खपाया जा रहा है।
खरीफ से बॉटल में मिलेगा नैनो यूरिया
प्रबंध निदेशन इफको डॉ. उदय शंकर अवस्थी ने कहा कि अगली खरीफ से पहले इफको द्वारा नैनो यूरिया पहुंचाया जाएगा। इसकी विशेषता यह है कि एक बोरी यूरिया के बराबर यूरिया का तरल स्वरूप एक बॉटल में ही मिल जाएगा। यह ठोस यूरिया से अधिक प्रभावशाली होगा और इसकी कीमत भी बहुत कम होगी। उन्होंने बताया कि इसके आने पर शासन को यूरिया पर सब्सिडी भी नहीं देनी होगी। उन्होंने बताया कि इफको जैविक खाद के बाद अब जैविक कीटनाशक भी बना रहा है, जो वातावरण के लिए नुकसान देह नहीं होगा।

Devendra Karande Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned