आज अनिश्चिकाल के लिए फिर कृषि मंडी बंद

मुख् यमंत्री द्वारा दिए आश्वासन और फिर समस्या का निराकरण नहीं होने से मंडी के अधिकारियों और कर्मचारियों ने २५ सितंबर से फिर अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी है। इसकी सूचना भी प्रशासन को गुरुवार दी गई है। कर्मचारियों के साथ ही व्यापारी शामिल हो रहे हैं।

By: Devendra Karande

Published: 25 Sep 2020, 04:03 AM IST

बैतूल। मुख् यमंत्री द्वारा दिए आश्वासन और फिर समस्या का निराकरण नहीं होने से मंडी के अधिकारियों और कर्मचारियों ने २५ सितंबर से फिर अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी है। इसकी सूचना भी प्रशासन को गुरुवार दी गई है। कर्मचारियों के साथ ही व्यापारी शामिल हो रहे हैं। हड़ताल से जिले की तीन मंडियों में अनाज की खरीदी-बिक्री बंद हो जाएगी। जिससे किसानों को परेशान होना पड़ेगा।
संयुक्त संघर्ष मोर्चा मप्र मंडी बोर्ड के जिलाध्यक्ष सूरज उइके ने बताया कि मॉडल एक्ट के विरोध में ३ सितंबर से ६ सितंबर तक हड़ताल की थी। मु यमंत्री ने १५ दिन में मांगों के निराकरण को लेकर आश्वासन दिया था। जिससे हड़ताल स्थगित कर दी गई थी। आज तक किसी मांग का निराकरण नहीं होने से दोबारा से हड़ताल शुरू की गई है। २५ सितंबर से मंडी के सभी अधिकारी व कर्मचारी अनिश्चिकालीन हड़ताल पर जा रहे हैं। बैतूल,मुलताई और ौंसदेही मंडी में अनाज की खरीदी बंद रहेगी। मंडी के अधिकारियों ने इसकी सूचना भी कलेक्टर को गुुुरुवार दी है। अधिकारियों और कर्मचारियों को वेतन, पेंशन की व्यवस्था सुनिश्चित करने सहित अन्य मांग की जा रही है। शासन मंडियों में मॉडल एक्ट ला रही है। इसकी वजह से मंडी कर्मचारी, व्यापारी और किसान सभी को परेशान होना पड़ेगा। अन्य शहरों में भी इसका विरोध जारी है।
व्यापारियों ने भी शुरू की हड़ताल
व्यापारी प्रतिनिधि प्रमोद अग्रवाल ने बताया कि केन्द्र ने किसानों के फायदे के लिए नया अध्यादेश लाया है या नुकसान के लिए समझ नहीं आ रहा है। मंडी के बाहर खरीदी पर कोई टैक्स नहीं लिया जाएगा। मंडी के अंदर टैक्स देना पड़ेगा। मंडी के अंदर टैक्स कम करने की मांग व्यापारी कर रहे हैं। गुुुरुवार किसानों का अनाज मंडी आ गया था। इस वजह से खरीदी की गई है। शुक्रवार से अनिश्चितकाल के लिए हड़ताल कर रहे हैं। इसकी सूचना भी कलेक्टर को दी गई थी।

Devendra Karande Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned