scriptAmbulance did not reach even after waiting for an hour | पढ़ें, एक घंटे तक इंतजार के बाद भी शव लेने नहीं पहुंची एम्बुलेंस, तो ऑटो में अस्पताल पहुंचाया | Patrika News

पढ़ें, एक घंटे तक इंतजार के बाद भी शव लेने नहीं पहुंची एम्बुलेंस, तो ऑटो में अस्पताल पहुंचाया

आज फिर ऑटो एम्बुलेंस चालक ने शव का परिवहन रेलवे स्टेशन मुलताई से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मुलताई तक कर सेवा की मिसाल पेश की। एक घंटे तक शव परिवहन के लिए जीआरपी एम्बुलेंस का इंतजार करती रही, लेकिन शव परिवहन के लिए एम्बुलेंस नहीं पहुंची। ऐसे में ऑटो एम्बुलेंस चालक प्रकाश सुरजुसे ने तत्परता शव परिवहन के लिए मदद की।

बेतुल

Published: February 24, 2022 09:00:38 pm

बैतूल। आज फिर ऑटो एम्बुलेंस चालक ने शव का परिवहन रेलवे स्टेशन मुलताई से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मुलताई तक कर सेवा की मिसाल पेश की। एक घंटे तक शव परिवहन के लिए जीआरपी एम्बुलेंस का इंतजार करती रही, लेकिन शव परिवहन के लिए एम्बुलेंस नहीं पहुंची। ऐसे में ऑटो एम्बुलेंस चालक प्रकाश सुरजुसे ने तत्परता शव परिवहन के लिए मदद की। बताया गया कि ट्रेन से कटने की वजह से एक व्यक्ति की मौत होने के बाद उसका शव रेलवे स्टेशन मुलताई स्टेशन पर लाया गया। जीआरपी शव को अस्पताल पहुंचाने के लिए एक घंटे तक एम्बुलेंस की रास्ता देखती रही। पर न शव वाहन पहुंचा न एंबुलेन्स। इस बीच ट्रेन की सवारी के लिए बस स्टेण्ड मुलताई से ऑटो एम्बुलेंस चालक प्रकाश सुरजुसे स्टेशन पहुंचे। उन्होंने आगे बढ़कर शव परिवहन की सहमति दी और उनकी ऑटो एम्बुलेंस से शव को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया। गौरतलब है कि मुलताई क्षेत्र में ऑटो एम्बुलेंस के माध्यम से चौथी बार शव का परिवहन किया गया है। ऑटो एम्बुलेंस योजना मुलताई में बैतूल सांस्कृतिक सेवा समिति द्वारा संचालित की जा रही है। मुलताई में योजना के संयोजक समाजसेवी दीपेश बोथरा है। योजना संचालक गौरी भारत पदम, संयोजक बोथरा एवं सभी सहयोगियों ने भी ऑटो एम्बुलेंस चालक प्रकाश सुरजुसे की सराहना की है। गौरतलब है कि 11 फरवरी को भी मुलताई के ऑटो एम्बुलेंस चालक रमेश साहू द्वारा मोग्या नाले के पास से एक महिला का शव सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया था। दूध के टेंकर की वजह से यह हादसा हुआ था, जिसमें एक महिला की मौके पर ही मौत हो गई थी।
जेठ ने पटिया मारकर बहू का सिर फोड़ा
बैतूल। शाहपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम गुरगुंदा में जेठ ने अपनी बहू का पटिया मार कर सिर फोड़ दिया। सूचना पर पहुंची 100 डायल उसे बेहोशी की हालत में शाहपुर ले कर आई और अस्पताल में भर्ती कराया है। घायल महिला का इलाज चल रहा है। पुलिस ने भी अस्पताल पहुंचकर परिजनों के बयान लिए हैं। घायल महिला के परिजनों ने बताया कि गुरुवार सुबह लगभग 10 बजे सुगंधा पति बाले उइके (42) गघर में थी। उसी बीच उसके जेठ तेजी उइके ने पटिया से सिर पर वार कर घायल कर दिया। बताया जा रहा है कि जमीन के विवाद को लेकर जेठ ने झगड़ा और गाली-गलौज की थी। इस पर महिला ने गाली गलौज करने से मना किया तो उसने पटिये से हमला कर दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
ऑटो एम्बुलेंस से की मदद को शव को पहुंचाया अस्पताल
The body was taken to the hospital with the help of auto ambulance

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: पावर प्ले में बैंगलोर ने बनाए 1 विकेट के नुकसान पर 46 रनपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.