बाराती बनकर पहुंचे इनकम टैक्स ऑफिसर्स, गिराए शटर और शुरू कर दी जांच


बैतूल। भोपाल से आई आयकर विभाग की टीम ने बुधवार दोपहर शहर में सराफा दुकानों और बिल्डर्स पर एक साथ नौ जगहों पर छापामार कार्रवाई की। कार्रवाई के लिए अधिक संख्या में आयकर विभाग के अधिकारी बाराती बनकर पहुंचे। आयकर विभाग द्वारा शहर में की जा रही कार्रवाई को अभी तक कि सबसे बड़ी कार्रवाई पर बताया जा रहा है। कार्रवाई से सराफा व्यापारी और बिल्डर्स में हड़कंप मचा हुआ है। देर रात तक कार्रवाई जारी रही। कार्रवाई के दौरान पुलिस बल बंदूक लेकर तैनात रहा।

कोठीबाजार स्थित सराफा बाजार में आयकर विभाग की टीम ने बुधवार छापामार कार्रवाई की। कोठीबाजार की छह सराफा दुकानों में कार्रवाई  करने अधिकारियों की टीम इटारसी जोन के ज्वाइंट कमिश्नर पी मनोज और शोभा माहेश्वरी के नेतृत्व में एक साथ पहुंची। कार से उतरते ही अधिकारी सीधे सराफा दुकानों में घुस गए। अधिकारियों के अंदर घुसते ही टीम के साथ पहुंचे पुलिसकर्मियों ने दुकान का आधा शटर बंद कर दिया। दुकान के अंदर किसी की भी आवाजाही बंद रही। दुकानों के अंदर के ग्राहकों को बाहर किया।

विभाग के अधिकारियों ने कोठीबाजार में मरोठी ज्वेलर्स, श्रीराम ज्वेलर्स,अलंकार ज्वेलर्स, मामाजी ज्वेलर्स की दो फर्म, राज फर्म की दो ज्वेलर्स पर छापामार कार्रवाई की। अधिकारी दुकानों के अंदर घुसते ही काउंटर पर बैठ गए और जांच पड़ताल शुरू की। दुकानों के खरीदी-बिक्री से संबंधित सभी दस्तावेज खंगाले गए। कम्प्यूटर का भी डाटा खंगाला गया। दोपहर से लेकर देर रात तक दुकानों में जांच पड़ताल चलती रही। बताया जा रहा है कि कार्रवाई दूसरे दिन भी जारी रहेगी।

आयकर विभाग के अधिकारियों द्वारा जिस तरह से ताबड़तोड़ कार्रवाई की गई है,उससे करोड़ों रुपए इनकम टैक्स चोरी की आशंका जताई जा रही है। आयकर विभाग की कार्रवाई से कोठीबाजार में ही स्थित कई सराफा दुकानें बंद हो गई। दुकानदारों ने कार्रवाई के डर से दुकानें बंद कर दी। वही जो दुकानें खुली रही वहां खरीदारी के लिए लोगों की भीड़ लगी रही। कार्रवाई के लिए पहुंचे अधिकारियों ने जानकारी देने से इंकार कर दिया। अधिकारियों द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों से जानकारी लेने की बात कही जा रही थी।

बिल्डर्स के यहां भी मारा छापा
आयकर विभाग के अधिकारियों ने शहर में ही बिल्डरों के कार्यालय में   भी छापामार कार्रवाई की। लिंक रोड पर योग इंजीनियर्स व बिल्डर्स के यहां  पहुंचे। वही बाजू में ही चिरंजीव अस्पताल, यहां से कुछ दूरी पर आरएसके कंपनी के कार्यालय में भी छापामार कार्रवाई की। यहां पर भी देर रात तक जांच जारी रही। कार्रवाई के दौरान पुलिस बल बंदूक लेकर तैनात किया गया था। अन्य कुछ बिल्डरों पर भी छापामारी की चर्चा रही।

गाडिय़ों पर लिखा पंकज वेड नेहा 
कार्रवाई के लिए आयकर विभाग की टीम बाराती बनकर पहुंची। जिन गाडिय़ों से  अधिकारी कार्रवाई के लिए पहुंचे उन सभी पर पंकज वेड नेहा लिखा हुआ था। अधिकारियों द्वारा किसी को कार्रवाई का पता नहीं चले,जिससे इस तरह से लिखा गया। कार्रवाई के लिए लगभग 13 गाड़ी 80 अधिकारी व कर्मचारी पहुंचे थे। जितने भी स्थानों पर छापामार कार्रवाई की गई वहां पर गाडिय़ां खड़ी की गई थी। 
Show More
gaurav nauriyal
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned