भाजयुमो जिलाध्यक्ष के पुतले को पहनाई जूते की माला, चप्पलों से की पिटाई

rakesh malviya

Publish: Feb, 15 2018 06:49:56 (IST)

Hoshangabad, Madhya Pradesh, India
भाजयुमो जिलाध्यक्ष के पुतले को पहनाई जूते की माला, चप्पलों से की पिटाई

भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने जिलाध्यक्ष के खिलाफ मोर्चा खोला, जयस्तंभ चौक कार्यकर्ताओं ने भाजयुमो जिलाध्यक्ष भवानी गावंडे का पुतला बनाकर जूते की माला पहनाई

सारनी. नगरीय निकाय चुनाव में भाजपा की हार के बाद से क्षेत्र में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा। आए दिन किसी न किसी मामले को लेकर विवादों में घिर रहे हैं। अभी भाजपा मंडल अध्यक्ष का विवाद सुलझा ही नहीं था कि युवा मोर्चा की घोषणा से नया विवाद सामने आ गया है। भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने अपने ही जिलाध्यक्ष के खिलाफ मोर्चा खोल लिया है।
बुधवार दोपहर नगर के जयस्तंभ चौक पर 100 से अधिक कार्यकर्ताओं ने भाजयुमो जिलाध्यक्ष भवानी गावंडे का पुतला बनाकर पहले जूते की माला पहनाई। फिर चप्पलों से पिटाई कर भवानी गावंडे हटाओं, भाजयुमो बचाओं जैसे नारे लगाए। खासबात यह रही कि प्रदर्शन के दौरान पुलिस मौजूद नहीं थी। कार्यकर्ताओं ने बताया कि भवानी गावंडे द्वारा 2 मंडल अध्यक्ष, जिला व मंडल पदाधिकारियों की अनाधिकृत घोषणा की है। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि बिना मंडल अध्यक्ष, जिलाध्यक्ष को बताए घोषणा की है जो पार्टी नियमों के खिलाफ है। प्रदर्शन करने वालों में परमेश्वर नागले, तस्लीम मंसूरी, कुबेर डोंगरे, सुनील सिंह, मुकेश जायसवाल, गणेश महस्की, जफर खान, विजय गुप्ता, नन्हे गुप्ता, मनीष सिंदूर, रजनीकांत यादव, मन्नू सिंह, राजा सिंह, लोकेश भोरसे, अमित श्रीवास्तव, सुजल डेहरिया, अंकित राकसे समेत अन्य कार्यकर्ता शामिल है।

 

पुलिस थाने पहुंचा भाजयुमो विवाद
भारतीय जनता युवा मोर्चा में नियुक्ति के बाद से उत्पन्न हुई कलह कम होने के बजाए हर रोज बढ़ रही है। इससे क्षेत्र में भाजयुमो दो गुटों में बट गया है। एक गुट में जहां नवनियुक्त मंडल अध्यक्ष अंजनी सिंह और समर्थक है। वहीं दूसरे गुट में मंडल अध्यक्ष की चाह रखने वाले बाकी सभी कार्यकर्ता और पदाधिकारी है। हालांकि अंजनी सिंह गुटबाजी खत्म कर मिलजुलकर कार्य करने की बात कर रहे है। नवनियुक्त मंडल अध्यक्ष द्वारा गुरुवार को अपने समर्थकों के साथ पुलिस थाना सारनी पहुंचकर बुधवार को जिलाध्यक्ष भवानी गावंडे का पुतला बनाकर जूते की माला पहनाकर चप्पलों से पिटाई करने वाले भाजयुमो नेता तस्लीम मंसूरी, परमेश्वर नागले, कुबेर डोंगरे, मुकेश जायसवाल और सुनील सिंह के खिलाफ नामजद शिकायत दर्ज कराई। अंजनी ने कहा कि जिलाध्यक्ष पर झूठे आरोप लगाकर उनकी छवि धूमिल करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने पुलिस से मांग की है कि बिना प्रशासन से अनुमति लिए जिलाध्यक्ष का पुतला बनाकर जूते की माला पहनाकर चप्पलों से मारने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। ऐसा नहीं करने पर युवा मोर्चा उग्र आंदोलन करने पर बाध्य रहेगा।

Beagle wore shoes slippers worn by the father of the BJYM


इनका कहना -
पार्टी का अंदरूनी मामला है। हम घर में बैठकर सुलझा लेंगे। भाजयुमो जिलाध्यक्ष के प्रति प्रदर्शन कर आक्रोश की जानकारी मुझे नहीं है।
जितेंद्र कपूर, जिलाध्यक्ष भाजपा

अंजनी सिंह के साथ जितने भी कार्यकर्ता ज्ञापन देने थाने पहुंचे थे। वे सभी बजरंगदल के हैं। युवा मोर्चा के नहीं। मंडल अध्यक्ष के साथ भाजयुमो कार्यकर्ता नहीं है।
परमेश्वर नागले, भाजयुमो, सारनी।


मैं खुद मंडल अध्यक्ष पद का दावेदार था। मुझे संगठन ने महामंत्री की जिम्मेदारी सौंपी है। मैं संगठन के निर्णय से संतुष्ट हूं। मैंने कहीं भी यह नहीं कहा कि मैं महामंत्री पद से संतुष्ट नहीं हूं।
गोलू राजपूत, नवनियुक्त मंडल महामंत्री, सारनी।


भाजयुमो मंडल अध्यक्ष अपने समर्थकों के साथ आवेदन देने आए थे। आवेदन लेकर मामले को जांच में लिया है।
महेन्द्र सिंह चौहान, टीआई, सारनी।

1
Ad Block is Banned