बिना स्वास्थ्य जांच के ही बल्कर चालक परिचालक पहुंच रहे

नहीं हो रही कार्रवाई

पाथाखेड़ा. मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी के साइलो प्लांट से सूखी राख भर कर जाने वाले बल्कर के चालक परिचालकों की स्थिति संदेहास्पद दिखाई दे रही है। बताया जाता है कि राजस्थान, गुजरात सहित अन्य दूसरे राज्यों से बल्कर लेकर चालक परिचालक सारणी पहुंच रहे हैं। इसके बावजूद उनकी जांच नहीं की जा रही है। बताया जाता है कि बल्कर के चालक परिचालक सुखी राख को भरने के बाद शहर के महत्वपूर्ण स्थानों पर आते जाते नजर आते हैं। नगर के लोगों का कहना है कि चालक और परिचालकों की जांच होनी चाहिए। खास बात तो यह है कि मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी के बेरियल के समक्ष बल्कर चालक, परिचालकों के वाहनों को रोककर टोकन का वितरण किया जा रहा है। धारा 144 लगे होने के बाद 15 से 20 लोग एक ही स्थान पर एकत्रित होकर अपने वाहन का नंबर आने का टोकन ले रहे हैं। इसकी जानकारी प्रशासन को होने के बावजूद इस ओर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

- राजस्थान, गुजरात सहित अन्य स्थानों से सारनी आने वाले बल्करो को घोड़ाडोंगरी के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर चालक परिचालकों की जांच करने के बाद ही सारणी शहर में प्रवेश करने दिया जा रहा है। इस संबंध में खंड चिकित्सा अधिकारी को आदेशित किया है।
अभय चौधरी, एसडीओपी सारणी

तेज हवाएं चली, रिमझिम बरसात भी हुई
सारनी. बुधवार को दोपहर के बाद मौसम बदला।करीब 20 मिनट तक तेज हवाए चली।इस दौरान रिमझिम बरसात हुई।तेज हवाएं चलने से पेड़ की डाल बिजली के तार पर गिरने से शॉपिंग सेंटर समेत अन्य क्षेत्रों की बिजली गुल हो गई।इसके करीब एक घंटे बाद बिजली तो आई।लेकिन आंख मिचौली का दौर ऐसा चला कि हर आधे घंटे में बिजली गुल होती रही।यह दौर शाम 7 बजे तक चला।जिसके चलते बिजली से चलने वाले उपकरणों में परेशानी आती रही।वितरण कंपनी के कनिष्ठ अभियंता प्रमोद वरकड़े ने बताया बिजली सप्लाई तार पर पेड़ की टहनी गिरने से कुछ क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति बाधित रही है।

कटाई पर आए गेहूं को नुकसान
मुलताई. नगर सहित ग्रामीण क्षेत्रों में बुधवार की दोपहर बाद अचानक तेज बारिश शुरू हो गई। क्षेत्र में इस समय गेहूं की कटाई चल रही है। ऐसे में गेहूं को इस बारिश से ज्यादा नुकसान होना बताया जा रहा है। लगभग एक घंटे तक बारिश होती रही। किसानों का कहना है कि गेहूं कटाई के लिए वैसे ही मजदूर नहीं मिल रहे हैं, उस पर इस बारिश ने किसानों की मुश्किल को बढ़ा दिया है। इससे गेहू की चमक पर असर पड़ेगा और गेहू के दाम बराबर नहीं मिल पाएंगे, पिछले दिनों में तेज हवा एवं बारिश सहित ओलावृष्टि से गेहू की फसल को नुकसान पहुंचा था। अब एक बार फिर बेमौसम की बारिश ने किसानों को परेशान कर दिया है।

yashwant janoriya Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned