लेटलतीफी: एक काम्प्लेक्स शुरू नहीं, दूसरे पर लगा ब्रेक

गंज मंडी काम्प्लेक्स का निर्माण चुनाव के पहले से काम बंद पड़ा

By: poonam soni

Published: 30 Dec 2018, 01:09 PM IST

बैतूल. चुनावी वर्ष की वजह से नगरपालिका के दो बड़े प्रोजेक्टों पर ग्रहण लगता नजर आ रहा है। 10 करोड़ की लागत से बन रहे गंज मंडी काम्प्लेक्स के निर्माण में जहां चुनाव से पहले ही ब्रेक सा लग गया है। वहीं टेंडर होने के बाद भी अभिनंदन सरोवर के पिछले सवा चार करोड़ की लागत से बनने वाले काम्प्लेक्स का निर्माण भी अभी तक शुरू नहीं हो सका है। यह दोनों प्रोजेक्ट नगरपालिका द्वारा छोटे एवं फुटकर दुकानदारों को रियायती दरों पर स्थाई दुकानें उपलब्ध कराए जाने के लिए शुरू किए गए थे। दोनों ही प्रोजेक्ट की रफ्तार धीमी पडऩे के कारण मामला ठंडे बस्ते में जाता नजर आ रहा है।

1. गंज मंडी काम्प्लेक्स प्रोजेक्ट पर तो काम चल रहा है। यदि काम की रफ्तार धीमी है तो ठेकेदार से बात की जाएगी। अभिनंदन के पीछे काम्प्लेक्स निर्माण के लिए टेंडर तो हो चुके हैं लेकिन दरें परिषद से स्वीकृत होना बाकी है। जिसके बाद ही काम शुरू हो पाएगा।
प्रियंका सिंह, सीएमओ, नपा बैतूल
दो महीने से रूका मंडी काम्प्लेक्स का निर्माण
गंज क्षेत्र में शॉपिंग काम्प्लेक्स का निर्माण 10 करोड़ की लागत से किया जा रहा है। विवादों के चलते शुरूआत से ही यह प्रोजेक्ट छह महीने पिछड़ गया था। देरी से काम शुरू होने के बाद निर्माण ने रफ्तार पकड़ ली थी, लेकिन विधानसभा चुनाव शुरू होने के बाद निर्माण कार्य की रफ्तार धीमी पड़ गई और अचानक ही इस प्रोजेक्ट पर ब्रेक लग गया है। विगत डेढ़ महीने से प्रोजेक्ट का काम काफी धीमा पड़ गया है। ठेकेदार द्वारा काम तेज गति से नहीं कराए जाने के कारण निर्माण अब तक पूरा नहीं हो सका है। बताया गया कि प्रोजेक्ट का निर्माण धीमा पडऩे के कारण दुकानें अभी तक पुरी नहीं बन पाई है। जबकि प्रोजेक्ट को खत्म करने की मियाद एक साल रखी गई थी। जिन दुकानदारों को काम्पलेक्स में दुकानें आवंटित की जाना है वे अस्थाई तौर पर मंडी क्षेत्र में ही दुकानें संचालित कर रहे हैं।

टेंडर होने के बाद भी प्रोजेक्ट शुरू नहीं
अभिनंदन सरोवर के पीछे खाली पड़ी जमीन पर नगरपालिका द्वारा 4.23 करोड़ की लागत से काम्प्लेक्स का निर्माण कराया जाना प्रस्तावित है। इस काम्प्लेक्स निर्माण के लिए टेंडर भी हो चुका हैं लेकिन परिषद से दर स्वीकृति नहीं होने के कारण अभी तक ठेकेदार को वर्क आर्डर जारी नहीं हो सके हैं। खाली पड़ी यह जमीन गणेशोत्सव, नवदुर्गा पर्व के दौरान मूर्तिकारों को मूर्तिनिर्माण के लिए प्रदान कर दी जाती है। बताया गया कि नगरपालिका द्वारा मुख्य मार्गों पर सड़क किनारे गुमठी लगाकर कब्जा करने वाले दुकानदारंों के लिए यह सस्ती दरों पर दुकानें बनाए जाने का निर्णय लिया गया है। काम्प्लेक्स में कुल 324 दुकानों को निर्माण कराया जाना है। वहीं आचार संहिता लगने के कारण परिषद की बैठक भी नहीं हो सकी। जिससे कि निर्माण कार्य की दरें स्वीकृत हो सके।

poonam soni
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned