मध्यप्रदेश से कम दाम में शराब खरीदकर आंध्रप्रदेश में बेचते हैं महंगी

rakesh malviya

Publish: Oct, 13 2017 05:07:08 (IST)

Betul, Madhya Pradesh, India
मध्यप्रदेश से कम दाम में शराब खरीदकर आंध्रप्रदेश में बेचते हैं महंगी

नकली सीआरपीएफ का जवान बनकर वारगंल ले जा रहा था अवैध शराब, जीआरपी और आरपीएफ ने संयुक्त रूप से कार्रवाई कर 577 क्वाटर जब्त

बैतूल. बैतूल स्टेशन पर तीन से चार महीने में करीब 15 से 20 लोग आंध्रप्रदेश निवासी ट्रेनों में शराब की तस्करी करते हुए पकड़े गए है। यह लोग मध्यप्रदेश से कम रेट पर शराब खरीदकर आंध्रप्रदेश में उसे महंगे दाम पर बेचते हैं। इसके पहले भी जबलपुर की चार महिलाओं के पास से करीब एक लाख रुपए की शराब स्टेशन से पकड़ी थी। इन चारों महिलाओं के पास चार बड़े बैग में शराब भरी हुई थी। यह चारों महिलाएं भी आंध्रप्रदेश में शराब बेचने जा रही थी। जिसके कारण ट्रेनों में शराब की तस्करी थमने का नाम नहीं ले रही है। शराब की तस्करी रोकने के लिए जीआरपी और आरपीएफ को संयुक्त रूप से लगातार कार्रवाई कर रही है। बुधवार को जीआरपी और आरपीएफ को मुखबिर से सूचना मिली थी कि ट्रेन में कुछ लोग अवैध रूप से शराब ले जाने के फिराक में है। सूचना मिलते ही आरपीएफ और जीआरपी ने संयुक्त से स्टेशन पर सर्चिंग अभियान चलाया। सर्चिंग के दौरान टिकट घर में आंध्रप्रदेश निवासी 45 वर्षीय मेहबूबाबाद जिला वारगल निवासी अमरेन्द्रर पिता गोपाल स्वामी के बैग से 577 क्वाटर शराब की बाटल जब्त की गई। जब्त शराब की कीमत करीब 34 हजार 620 रुपए बताई जा रही है। शराब की तस्करी करते पकड़ाया अमरेन्द्रर जीआरपी और आरपीएफ की कार्रवाई से बचने के लिए आपने आप को सीआरपीएफ का बर्खास्त जवान बता रहा है। जीआरपी थाना प्रभारी एचआर कुमरे ने बताया कि बैतूल स्टेशन से शराब की तस्करी करते पकड़ाए युवक की जीआरपी आमला को 2014 से तलाश थी। उन्होंने बताया कि 2014 से आरोपी का स्थाई वारंट जारी था। अमरेन्द्रर पहले भी शराब की तस्करी करते हुए पकडय़ा था।

वारंगल ले जा रहा था शराब
हजरतनिजामुद्विन से सिकंदराबाद जाने वाली कांगो एक्सप्रेस में अमरेन्द्रर बैग में शराब रखकर शराब की तस्करी करने के फिराक में था। आरपीएफ के थाना प्रभारी बीपी यादव ने बताया कि युवक के बैग से ५७७ क् वाटर जब्त की है। युवक के पास से बैतूल से वारंगल का टिकट मिला है। शराब की तस्करी करते पकड़ाए अमरेन्द्रर ने बताया कि वह इटारसी से ट्रेन में शराब लेकर बैतूल आया था। बैतूल से वारंगल शराब लेकर जा रहा था। शराब की तस्करी के दौरान कार्रवाई से बचने के लिए अपने-आप को सेना जवान बताता था, जिससे से उस पर कोई कार्रवाई ना हो। अमरेन्द्रर ने बताया कि मप्र में शराब कम कीमत पर मिलती है। प्रदेश से कम कीमत पर शराब खरीदकर आंध्रप्रदेश में अधिक दाम पर बेचने का काम करता है। कार्रवाई के दौरान जीआरपी थाना प्रभारी एचआर कुमरे,आरपीएफ थाना प्रभारी बीपी यादव,जीआरपी के प्रधान आरक्षक श्याम सिंग ,दिलीप नरवरे और आरपीएफ के जवान मौजूद रहे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned