महानगरों की तर्ज पर यहां बनी बैतूल की पहली इ-कामर्स बेवसाइड

महानगरों की तर्ज पर यहां बनी बैतूल की पहली इ-कामर्स बेवसाइड

Rakesh Kumar Malviya | Publish: Sep, 11 2018 01:09:09 PM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

छोटे व्यापारी भी अब बेच सकेंगे ऑनलाइन सामान, बैतूल जिले में मिलेगी नि:शुल्क डिलेवरी

बैतूल. महानगरों की वेबसाइड के तर्ज पर शहर के बडोरा निवासी मानव तिवारी और आशीष धोटे ने मिलकर ई-कामर्स वेबसाइट बनाई है। पांच हजार रुपए के खर्चें में इसे यू टयूब से देखकर तीन माह में इसे तैयार किया है। वेबसाइड के माध्यम से जिले के छोटे व्यापारी अपनी सामग्री ऑनलाइन बेच सकें गे। जिले के वासियों को सामग्री की डिलेवरी नि:शुल्क कराई जाएगी। वेब साइड के माध्यम से युवक रोजगार से जुडक़र अच्छी कमाई कर रहे हैं। अन्य युवक भी वेब साइड बनाकर रोजगार से जुड़ सकते हैं।

शहर के छोटे व्यापारियों का सामान बिकेगा ऑनलाइन
मानव ने बताया कि शहर के छोटे व्यापारी जो छोटी-छोटी दुकानें संचालित करते है। वह सडक़ किनारे ठेले लगाते है। उन्हें भी इस ई-कामर्स वेबसाइट से जोड़ा जा रहा है। जिससे इन छोटे व्यापारियों के सामान भी लोग ऑनलाइन खरीद सकेंगे। जिले के छोटे व्यापारियों की पहुंच ऑनलाइन बाजार तक करवाना चाहते है।ं इस वेबसाइट पर छोटे व्यपारी अपने सामान को बैतूल से देश के विभिन्न हिस्सों तक बेच पाएंगे। युवकों ने बताया कि उनके द्वारा बैतूल जिले में प्रोडक्ट की नि:शुल्क डिलेवरी की जा रही है। बैतूल शहर में ऑर्डर करने पर सिर्फ चार घंटे में सामान पहुंच जाएगा। वहीं जिले में एक दिन का समय में प्रोडक्ट पहुंच जाएगी। वही दूसरी वेबसाइटों में डिलेवरी के लिए चार से पांच दिन का समय लगता है। वेब साइड के माध्यम से एक रोजगार मिला है। जिससे अच्छी इनकम हो रही है। अन्य युवक की अपनी वेबसाइड बनाकर रोजगार से जुड़ सकते हैं।

ऐसे बनाई वेबसाइट
आशीष धोटे ने बताया ई-कॉमर्स वेबसाइट बनाने के लिए पहले एचटीएमएल पर बनाना शुरू किया। लेकिन इस पर काम करने में कठिनाई आ रही थी। इसके बाद वीक्स डॉट कॉम की सहायता से साइट बनाई। वेबसाइट बनाने के लिए वीक्स डॉट कॉम पर जाए। जहां अपना अकांउट क्रिएट करें। इसके बाद वेबसाइट की टेमप्लेट जैसे बिसनेस, न्यूज, फोटोग्राफी एवं अन्य का चयन करें। इसके बाद एचटीएमएल के माध्यम से कोडिंग करें। वेबसाइट की डिजाइन तैयार होने पर डोमेन नेम के लिए रजिस्टेशन करें।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned