फैक्ट्री में हो रहे धमाके, मकान की दीवारों में आई दरारें

पीएचई मंत्री की विधानसभा गांव के ग्रामीणों में दहशत

बैतूल. पीएचई मंत्री सुखदेव पांसे की मुलताई विधान सभा में बोरगांव शेरगढ़ पंचायत के अंभोरी गांव में एक स्टील फैक्ट्री में हो रहे डायनामाइट ब्लास्ट ने आधा दर्जन गांवों के लोग दहशत में है। हालात यह है कि क्षेत्र के मकानों में दरार पड़ गई है। गांवों में पानी का जलस्तर भी गिरते जा रहा है। बोर भी सूख रहे हैं। ग्रामीणों ने इसकी शिकायत कलेक्टर से लेकर पीएचई मंत्री तक से की है। इसके बाद भी स्थिति ज्यो की त्यो हैं। ग्राम सोमगढ़ के ग्रामीणों ने तो फैक्ट्री को बंद करने का पंचायत में प्रस्ताव भी पारित किया है। ग्रामीणों ने कालूराम पवार, बेला पवार, सूरेश बताया कि बोरगांव शेरगढ़ पंचायत के अंभोरी गांव में लगी आइकेम इंजीनिरिंग प्रायवेट लिमिटेड कंपनी में स्टील प्लेट बनाने के कार्य में डायनामाइट विस्फोटक पदार्थ का उपयोग किया जाता है, जिसकी वजह से जोरदार धमाके होते हैं। ग्रामीणों के अनुसार स्टील प्लेट बनाने वाली फेक्ट्री के धमाकों से मकान की दीवारों में दरार हो गई है। कांच की खिड़कियां टूट गई है। ये धमाके दिन में दो से तीन बार और रात में भी दो तीन बार होते है। पंचायत में शिकायत की थी कुछ नही हुआ। मंत्री सुखेदव पांसे से शिकायत की थी फिर भी कुछ नही हुआ। ग्रामीणों का कहना है कि धमाकों को रोका नहीं गया तो आने वाले वर्षों में इन गावो में के घर खंडहर में तब्दील हो जाएंगे। वही इलाके का जल स्तर सैकड़ों फीट नीचे चल जाएगा। धमाकों का सबसे ज्यादा असर सालाईढाणा,सोमगड नरखेड़ अंभोरी, बोरगांव शेरगढ़ सहित अन्य गांवों में देखा जा रहा है। धमाकों को लेकर सालाईढाणा, सोमगड, नरखेड़ को मिलाकर तीन चार गांव के लोग फैक्ट्री पर भी गए थे, वहाँ समझाइश भी दी। कुछ दिन फैक्ट्री बंद रखी लेकिन फिर वापस चालू कर दी। लगभग चार वर्ष से क्षेत्र में फैक्ट्री का संचालन किया जा रहा है। सोमगढ़ के ग्रामीणों ने फैक्ट्री को बंद करने का भी प्रस्ताव पारित किया है।
बैंक मैनेजर की हुई थी मौत : फोरलेन पर स्थित ग्राम उभारिया में ब्लास्टिंग के दौरान एक चालक की मौत हो गई थी। हेवी ब्लास्टिंग की वजह से पत्थर उछलकर कार की छत पर गिरा था। छत की टीन काटकर चालक को लगा और मौत हो गई थी। इस घटना से भी शासन-प्रशासन ने सबक नहीं लिया है।

- जिले में विस्फोटक पदार्थ को लेकर हम लोग काफी सतर्क है, इसमें हमारा बहुत ही कड़ा रुख है। इसमें कोई भी उलंघन पाया जाता है तो हम कड़ी कार्रवाई करेंगे। इस मामले पर मुलताई एसडीएम से जानकारी मांगी जा रही है। जानकारी अनुसार कार्रवाई की जाएगी।
तेजस्वी एस नायक, कलेक्टर

- हमारी कंपनी का ही ब्लास्टिंग से ५०० मीटर दूरी पर आवास बना है और बावड़ी भी है। आवास में कुछ नहीं हुआ है और न ही बावड़ी में। अधिकारी जांच कर रहे हैं। जांच में सत्यता सामने आ जाएगी।
रितेन्द्र कुमार, मैनेजर आइकेम इंजीनिरिंग प्रायवेट लिमिटेड कंपनी अंभोरा, बैतूल

yashwant janoriya
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned