अस्पताल में व्यवस्था बनाने परिजनों पर डाला पचास रुपए का बोझ

Devendra Karande

Publish: Oct, 13 2017 09:35:11 (IST)

Betul, Madhya Pradesh, India
अस्पताल में व्यवस्था बनाने परिजनों पर डाला पचास रुपए का बोझ

अस्पताल प्रशासन अब वार्ड में परिजनों को मरीज से मिलने जाने के लिए ५० रुपए जमाकर काउंटर से पास लेना पड़ेगा।

बैतूल। जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों के परिजनों की भीड़ को वार्ड से कम करने के लिए अस्पताल प्रशासन द्वारा अजीबो-गरीब निर्णय लिया गया है। अस्पताल के इस निर्णय से आदिवासी क्षेत्र से आने वाले गरीबों पर ५० रुपए का बोझ बढ़ गया है। अस्पताल प्रशासन के तुगलकी आदेश के मुताबिक अब वार्ड में परिजनों को मरीज से मिलने जाने के लिए ५० रुपए जमाकर काउंटर से पास लेना पड़ेगा। वार्ड से बाहर निकलने के बाद परिजन कार्ड लौटाकर राशि वापस ले सकेंगे लेकिन नियमों को बनाते वक्त यह ध्यान नहीं रखा गया कि बाहर से आने वाले गरीब आदिवासियों के पास घर जाने तक के लिए पैसे नहीं होते हैं ऐसे में पचास रुपए वे कहा से जमा करने के लिए लाएंगे।
इसे वास्तविक जरूरतमंदों की मदद बताया
मरीज के परिजनों से वार्ड में जाने के लिए पचास रुपए एंट्री शुल्क रखे जाने को जिला अस्पताल प्रशासन द्वारा वास्तविक जरूरतमंदों की मदद होना बताया गया। सिविल सर्जन डॉ अशोक बारंगा ने बताया कि जिला अस्पताल में मरीजों के परिजनों को मरीज सहायक पास प्रदान किए जाएंगे। यह पास ५० रुपए की राशि जमा कर अस्पताल प्रशासन से प्राप्त किए जा सकेंगे। मरीजों के परिजनों को मरीज सहायक पास से ही वार्ड में प्रवेश दिया जाएगा। मरीज सहायक पास वापस करने पर ५० रुपए की राशि परिजनों को पास कर दी जाएगी। मरीजों के परिजनों की बढ़ती संख्या से वास्तविक जरूरतमंदों को भीड़ का सामना करना पड़ता है। इस कारण जिला अस्पताल में यह व्यवस्था बनाई गई है।
संक्रमण न होने का दे रहे हवाला
इस व्यवस्था को लेकर अस्पताल प्रशासन द्वारा इसके पीछे संक्रमण न होने का एक ओर तर्क दिया जा रहा है। जिसमें बताया गया कि मरीजों के परिजनों में किसी प्रकार का संक्रमण न जाए इसलिए यह व्यवस्था बनाई गई है। इस व्यवस्था से मरीजों को उपचार में समय कम लगेगा एवं स्वास्थ्य लाभ मिलने में सहूलियत होगी। वार्ड की सफाई करने के लिए पर्याप्त समय मिलेगा। वार्डों में साफ-सफाई का सुचारू एवं व्यवस्थित प्रबंधन किया जा सकेगा। साथ ही अस्पताल प्रशासन ने जिला अस्पताल आने वाले मरीजों के परिजनों से उक्त व्यवस्था में सहयोग देने की अपील भी की है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned