पातालकोट एक्सप्रेस से युवती का हुआ अपहरण

युवती के परिजनों ने जीआरपी और आरपीएफ में शिकायत दर्ज कराई है। साथ परिजनों ने रेल मंत्री को ट्वीट कर बेटी का पता लगाने की मांग की है।

By: ghanshyam rathor

Published: 20 Mar 2020, 01:01 AM IST


बैतूल। बैतूल से भोपाल जाने के लिए निकली एक युवती का पातालकोट एक्सप्रेस से अपहरण हो गया। युवती के परिजनों ने जीआरपी और आरपीएफ में शिकायत दर्ज कराई है। साथ परिजनों ने रेल मंत्री को ट्वीट कर बेटी का पता लगाने की मांग की है। बताया जा रहा है कि बैतूल रेलवे स्टेशन पर पदस्थ मुख्य बुकिंग लिपिक महेन्द्र तिवारी की बेटी अमृता तिवारी बुधवार को पतालकोट एक्सप्रेस में बैठाया था। अमृता बैतूल से हबीबगंज जा रही थी, लेकिन बुधवार शाम तक घर नहीं पहुंची है। अमृता के अपहरण होने की सूचना मिलते ही रेल एसपी राकेश कुमार सगर सहित रेलवे के अधिकारी इटारसी स्टेशन पहुंचे। अधिकारियों ने स्टेशन पर पहुंचकर इटारसी स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले गए है। वहीं बैतूल आरपीएफ द्वारा भी बैतूल स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले गए है।
टावर लोकेशन इटारसी तक मिली
पिता ने बेटी को ट्रेन में बैठाने के बाद से बेटे इटारसी पहुंचने तक बेटी से संपर्क होता रहा। इसके बाद में बेटी से संपर्क टूट गया। बेटी से संपर्क टूटते ही परिजनों ने तुरंत ही बेटी की सहायता उपलब्ध कराने के लिए रेलवे अधिकारियों को सूचना दी। सूचना मिलते ही रेलवे के अधिकारी सर्तक हो गए। वहीं बैतूल से जीआरपी चौकी प्रभारी सुनील खेतवार और युवती के पापा महेंद्र तिवारी को लेकर इटारसी पहुंचे। उन्होंने रेलवे के अधिकारियों को पूरा घटना क्रम की जानकारी दी। जीआरपी को भी जांच के दौरान बेटी के टावर लोकेशन इटारसी के मिल रहे है। पिता ने बेटी के अपहरण होने का आंशका व्यक्त की है।
विश्वविद्यालय के काम से जा रही थी भोपाल
परिजनों ने बताया कि अमृता विश्वविद्यालय के काम से भोपाल जा रही थी। पिता ने बेटी को टिकट लेकर दिया था। जिसके बाद में इटासी तक संपर्क में रही। इसके बाद में उसका अपहरण हो गया। बताया जा रहा है कि महेंद्र तिवारी एक वर्ष पहले ही चन्द्रपुर से ट्रांर्सफर होकर बैतूल आए थे।
इनका कहना
पिता ने बेटी की अपहरण की शिकायत दर्ज कराई है। इटारसी में मामला दर्ज किया गया है। बेटी का मोबाइल का लोकेशन इटारसी में मिला है। मामले की जांच की जा रही है।
एचआर कुमरे, जीआरपी थाना प्रभारी आमला।
----------------

ghanshyam rathor Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned