आपके बच्चे की जान ले सकती है यह परंपरा, गोबर में पाए जाते हैं खतरनाक बैक्टीरिया

जागरूकता की कमी की वजह से आज भी मध्यप्रदेश में होता है कई जगहों पर ऐसा

बैतूल/ परंपरा के नाम पर हमारे देश में आज भी लोगों की जिंदगी से खिलवाड़ होती है। गोवर्धन पूजा के दिन भी देश के अलग-अलग हिस्सों में आज भी कई ऐसी परंपराओं का पालन किया जाता है, जो लोगों के लिए जानलेवा साबित हो रहे हैं। ऐसी ही एक परंपरा मध्यप्रदेश के बैतूल में वर्षों से चली आ रही है। इसका आयोजन गोवर्धन पूजा के अवसर पर हर साल किया जाता है।


ऐसी ही एक अजीबोगरीब परंपरा बैतूल में है, जहां गोवर्धन पूजा के दिन बच्चों को गोबर के ढेर पर लिटाने की परंपरा है। इसमें लोग गोबर से एक गोवर्धन पर्वत बनाते हैं, फिर उसे फूलों से सजाते हैं। उसके बाद उसकी पूजा की जाती है। फिर उस पर बच्चों को लिटाया जाता है। स्थानीय लोग इसे सदियों से चली आ रही परंपरा बताते हैं। ऐसी मान्यता है कि गोबर के ढेर पर सुलाने से बच्चे स्वस्थ्य रहते हैं।


मान्यता है कि बच्चों को गोबर पर लिटाकर गोवर्धन भगवान से अच्छे स्वास्थ्य की कामना करते हैं। ऐसा आयोजन बैतूल जिले में कई जगहों पर होता है। स्थानीय लोग कहते हैं कि हमलोग ऐसा अजमा चुके हैं। वहीं जानकार कहते हैं कि यह सिर्फ आस्था का विषय है। ग्वाला समाज के लोग ज्यादा पढ़े लिखे नहीं होते हैं। अंधविश्वास की वजह से ऐसा करते हैं, क्योंकि गोबर में कई प्रकार के कीटाणु होते हैं जो बच्चों के लिए नुकसानदेह है।


हो सकते हैं खतरनाक बीमारी
डॉक्टर भी मानते हैं कि गोबर में सक्रबटायफस जैसे खतरनाक बैक्टीरिया होते हैं, इससे फैले इंफेक्शन से बच्चे की जान भी जा सकती है। प्रशासन इसे लेकर इलाकों में जागरूकता अभियान भी चलाती है लेकिन उसका कोई असर होता नहीं दिखता। आज भी कई इलाकों में इसका आयोजन होता है। जबकि इन इलाकों में बच्चे गोबर से फैलने वाले बीमारियों के शिकार भी होते हैं।

अजीबोगरीब हैं परंपराएं
ऐसे तो मध्यप्रदेश में कई जगहों पर गोवर्धन पूजा के दिन अजीबोगरीब परंपराएं देखने को मिलती है। जिसमें भैंसा लड़ाई से लेकर गौ दौड़ तक शामिल है। कई जगहों पर भैसों के बीच लड़ाई करवाई जाती है। कहीं, गौ पूजन के बाद लोगों अपने ऊपर गाय को दौड़वाते हैं। इन परंपराओं पर प्रशासन रोक लगाने की भी कोशिश करती है लेकिन उसका असर दिखता नहीं है। इक्कसवीं सदी में अंधविश्वास पर विश्वास भारी है।

Show More
Muneshwar Kumar
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned