पढ़े, कैसे चिली अटैक करेगा बालिकाओं की सुरक्षा

स्कूल, कॉलेज जाने वाली छात्राएं मनचलों से अब स्वयं अपना बचाव कर सकेंगी। छात्राओं पर बढ़ते लैंगिक हमले एवं छेड़छाड़ की घटनाओं पर रोक लगाने के लिए बैतूल में हिंदू वाहिनी संगठन ने अनोखी पहल की शुरूआत की है।

By: Devendra Karande

Published: 07 Mar 2020, 05:03 AM IST

बैतूल। स्कूल, कॉलेज जाने वाली छात्राएं मनचलों से अब स्वयं अपना बचाव कर सकेंगी। छात्राओं पर बढ़ते लैंगिक हमले एवं छेड़छाड़ की घटनाओं पर रोक लगाने के लिए बैतूल में हिंदू वाहिनी संगठन ने अनोखी पहल की शुरूआत की है। शुक्रवार को संगठन की महिलाओं ने स्कूल एवं कॉलेजों में पढऩे वाली छात्राओं को चिली स्प्रे का वितरण किया। छात्राओं को बताया गया कि छेड़छाड़ या जबदस्ती करने जैसी घटनाओं से यह स्प्रे उनकी रक्षा करेगा। महिला संगठन ने इस स्पे्र को इस्तेमाल करने का तरीका भी छात्राअेां को बताया। उन्होंने कहा कि छात्राएं हमेशा इसे अपने पास रखे ताकि जरूरत पडऩे पर वे इसका इस्तेमाल कर सकें।
वीवीएम कॉलेज में छात्राओं को भेंट किए चिली स्पे्र
संगठन की पदाधिकारियों ने शुक्रवार को सदर स्थित वीवीएम कॉलेज पहुंचकर छात्राओं को चिली स्प्रे भेंट किए। इस स्प्रे की खासियत यह है कि महिलाओं ने इसे स्वयं अपने घरों में तैयार किया है। स्प्रे में चिली पॉउडर, पानी या गुलाब जल, थिनर, तेल और काली मिर्च पाउडर का इस्तेमाल किया गया है। इस मिश्रण को मिक्स कर बोतलों में भरा गया है। महिला संगठन ने स्प्रे बनाने की विधि छात्राओं से भी शेयर की। अंतराष्ट्रीय महिला दिवस के पूर्व संगठन की महिलाओं का यह प्रयास काफी सराहनीय कहा जा रहा है। इसे स्प्रे के वितरण से अब छात्राएं भी अपने आपको सुरक्षित महसूस कर सकती हैं।
मानव दुव्र्यापार विषय पर फिल्म का प्रदर्शन
महिला संगठन द्वारा वीवीएम कॉलेज में मानव दुव्र्यापार विषय पर एक फिल्म का प्रदर्शन भी किया गया। फिल्म के माध्यम से छात्राओं को जागरूक करने का यह अभिनव प्रयास था। साथ ही छात्राओं को उनके कानूनी अधिकारों के बारे में भी जानकारी दी गई। इस मौके पर एडिशनल एसपी श्रद्धा जोशी, वन स्टाप सेंटर की प्रशासक अनामिका तिवारी ने विभाग द्वारा संचालित योजनाओं के संबंध में जानकारी दी। संगठन की अध्यक्ष कविता मालवीय ने बताया कि संगठन इस स्प्रे को और अधिक प्रचारित करने का काम कर रहा है। हमारे द्वारा जिले के प्रत्येक स्कूलों एवं कॉलेजों में पहुंचकर छात्राओं को स्प्रे के बारे में जानकारी दी जा रही है ताकि वे कभी किसी मुसीबत में फंसे तो इसका उपयोग कर सकती हैं।

Devendra Karande Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned