बेटे की बीमारी ने मिटाईं माता-पिता के बीच की दूरियां,11 साल बाद फिर थामा एक दूजे का हाथ

11 साल में 15 बार पत्नी की शिकायत पर जेल गया पति, बेटे के भविष्य की खातिर पत्नी के साथ रहने के लिए हुआ तैयार..

By: Shailendra Sharma

Published: 13 Dec 2020, 05:25 PM IST

बैतूल. पत्नी की शिकायत पर वो 15 बार जेल गया लेकिन फिर भी पत्नी के साथ रहने के लिए तैयार हो गया। जी हां ये मामला हैरान कर देने वाला है। मामला बैतूल का है जहां बीते 11 साल से अलग रह रहे एक दंपति ने फिर से एक साथ रहने का फैसला लिया है। जिला कोर्ट में नेशनल लोक अदालत के दौरान दोनों ने एक दूसरे को वरमाला पहनाई और फिर से एक दूजे का हाथ थामा। दोनों ने एक दूसरे का हाथ थामने के बाद ये भी कहा कि अब वो पुरानी बातें भूलकर अपने बच्चे का भविष्य संवारने पर ध्यान देंगे।

 

11 साल में 15 बार पत्नी की शिकायत पर जेल गया
जिला कोर्ट में लगी नेशनल लोक अदालत में एक अनोखा मामला आया। यहां बीते 11 साल से अलग रहे एक जोड़े ने फिर से एक-दूसरे को वरमाला पहनकर एक दूजे का हाथ फिर से थामा। पत्नी ममता और पति चंद्रशेखर ने पुरानी बातों को भुलाकर एक बार फिर नए जीवन की शुरुआत की और खुशी खुशी अपने घर के लिए रवाना हो गए। दोनों के बीच विवाद की शुरुआत 11 साल पहले उस वक्त हुई थी जब ममता ने 2009 में पति चंद्रशेखर के खिलाफ घरेलू हिंसा और दहेज प्रताड़ना की शिकायत दर्ज कराई थी। धीरे-धीरे वक्त गुजरता गया लेकिन इनके बीच की दूरियां कम होने की जगह बढ़ती चली गईं। इन 11 सालों में पत्नी की शिकायत के बाद 15 बार पति चंद्रशेखर को जेल तक जाना पड़ा। लेकिन अब जब दोनों का बेटा एक गंभीर बीमारी से ग्रसित हो गया तो उन्होंने सारे गिले शिकवे मिटाकर फिर से एक-दूजे का हाथ थाम लिया।

 

बेटे की बीमारी ने मिटाईं दूरियां
चंद्रशेखर और ममता के टूटे हुए रिश्ते को उनके बेटे की बीमारी ने एक बार फिर जोड़ दिया है। दरअसल चंद्रशेखर और ममता के बेटे को टीबी की बीमारी है और जब बेटे की बीमारी के बारे में पिता चंद्रशेखर को पता चला तो उनका मन पिघल गया और बेटे की खुशियों और आने वाले भविष्य के लिए उन्होंने एक बार फिर पत्नी ममता के साथ अपने रिश्ते को जिंदा कर दिया। वकील की समझाइश पर ममता भी साथ रहने के लिए मान गई और दोनों ने अदालत में ही एक दूसरे को वरमाला पहनाकर राजी खुशी जीवनभर साथ रहने की बात कही। चंद्रशेखर ने बताया कि बेटे के लिए साथ रहना जरूरी है। पत्नी ने जो भी किया वो बीता हुआ कल है लेकिन अब हमें बेटे का भविष्य देखना है और इसलिए अब हम एक साथ मिलकर उसका भविष्य संवारेंगे।

 

देखें वीडियो- कलेक्टर ने बाबू से कहा 'घूस ली तो कर दूंगा ऐसी-तैसी'

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned