पुलिस की मौजूदगी में युवक ने भरी युवती की मांग

दो परिवारों के बीच मनमुटाव को दूर कर पुलिस ने थाने में युवती का विवाह कराया। युवक ने युवती के गले में माला डाली और कुमकुम से मांग भरी। इस अवसर पर युवक-युवती के परिजन भी मौजूद रहे। दरअसल कोंडवर्धा की एक युवती ने थाने में शिकायत दर्ज कराई थी कि 5 मार्च को उनकी सगाई जगदीश नामक युवक से हुई थी।

By: Devendra Karande

Published: 20 Nov 2020, 08:55 PM IST

भैंसदेही। दो परिवारों के बीच मनमुटाव को दूर कर पुलिस ने थाने में युवती का विवाह कराया। युवक ने युवती के गले में माला डाली और कुमकुम से मांग भरी। इस अवसर पर युवक-युवती के परिजन भी मौजूद रहे। दरअसल कोंडवर्धा की एक युवती ने थाने में शिकायत दर्ज कराई थी कि 5 मार्च को उनकी सगाई जगदीश नामक युवक से हुई थी। जिसके बाद वह तीन महीने तक युवक के साथ पारिवारिक संबंध में रही, लेकिन अब युवक उसे रखने को तैयार नहीं है। युवती ने अपनी शिकायत में यह भी बताया कि जब से ऑपरेशन हुआ है तब से युवक उनके साथ सही ढंग से पेश नहीं आता और वापस घर लौटने के लिए दबाव बनाता है। युवती की शिकायत के बाद भैंसदेही पुलिस ने युवक और उनके परिजनों को थाने बुलाकर समझाइश दी। दोनों परिवारों के बीच उबजे मनमुटाव को दूर किया और युवक-युवती को पुन: साथ रहने की सलाह दी।
मंदिर में करवाई शादी
पुलिस ने युवक-युवती और उनके परिजनों को समझाइश देकर विवाह रचाया। थाना परिसर में बने मंदिर में पुलिस की मौजूदगी में युवक ने युवती के गले में माला डाली और मांग भी भरी। जिसके बाद दोनों ने एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर राजी-खुशी साथ रहने पर सहमति जताई। वहीं परिजनों ने भी मनमुटावों को भुलकर युवक-युवती को अपना लिया। इसके साथ ही सामाजिक रीति-रिवाज से शादी करने पर भी हामी भरी। दो परिवार को पुन: जोडऩे में भैंसदेही थाना प्रभारी तरन्नूम खान और महिला डेस्क प्रभारी सुमन मिश्रा की अहम भूमिका रही। टीआई तरन्नूम खान ने बताया कि दोनों परिवारों ने सामाजिक रीति-रिवाज से शादी करने के बात कहीं है। उन्होंने कहा कि युवक-युवती बालिग है। अब दोनों रजामंदी से साथ रहने को तैयार है।

Devendra Karande Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned