अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठेंगे स्वतंत्रता संग्राम सेनानी

अस्तित्व को बचाने अब तक क्रमिक भूख हड़ताल

By: pradeep sahu

Published: 16 May 2018, 11:36 AM IST

सारनी. नगर के लोगों को जागरूक करने उद्योग बचाओं, नगर बचाओं संघर्ष समिति द्वारा अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल की पूर्व संध्या न्यू शॉपिंग सेंटर से मशाल जुलूस निकाला। जो बाबा साहब अंबेडकर प्रतिमा स्थल से होते हुए आंदोलन स्थल पर पहुंचा। जहां जुलूस का समापन कर 16 मई से शुरू हो रहे अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल की जानकारी दी गई। इधर उद्योग बचाओं, नगर बचाओं संघर्ष समिति के तत्वावधान में उजड़ते शहर को बचाने 15 वें दिन भी जय स्तंभ चौक पर क्रमिक भूख हड़ताल जारी रही। लेकिन अब तक प्रशासन की ओर से आंदोलनकारियों की कोई सुध नहीं लेने से आक्रोशित 88 वर्षीय स्वतंत्रता संग्राम सेनानी व समिति के संयोजक कृष्णा मोदी 16 मई से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठेंगे। इससे पहले उन्होंने प्रधानमंत्री के नाम पत्र भेजा है। उन्होंने कहा कि 15 दिन में 68 लोग शहर के अस्तित्व को बचाने अब तक क्रमिक भूख हड़ताल पर बैठ चुके हैं। मंगलवार को महिला शक्ति आंदोलन में शामिल हुई। संगीता डहेरिया, लक्ष्मी गोहे, ममता साहू, पार्वती इईके, महेंद्र कौर, लक्ष्मी साहू, माया वर्मा, नशरीन कुरैशी, वैशाली रोतिया, कामरेड रामू पवांर, रमेश भूमरकर, संदीप खादीपूरे क्रमिक भूख हड़ताल पर बैठे। समिति के राकेश महाले ने कहा कि आंदोलन को एक पखवाड़ा बीत गया है पर जिम्मेदारों ने कोई गंभीरता नहीं दिखाई। उन्होंने कहा कि शहर का विकास संघर्ष के रास्ते पर चलकर ही होगा। यह अब हम सबको समझना होगा। इसलिए संघर्ष रूकना नहीं चाहिए। महिला शक्ति के समर्थन में संगीता कापसे, सुनीता चढ़ोकर, छाया फोफसे, सुशीला फोफसे, याशीन खान, सुमन वाईकर, वोलदेवी, बलजीत कोर, शरदा बाई, रामा वाईकर, मो. इलियास, गंगाधर चढ़ोकर, विनोद जगताप, हरिश पटेल, प्रवीण निरापुरे, गजेंद्र जावरे, पंचू खान, सीएम बेले, रामकिशोर बेहरे, सतीश बामने, सुरेश जावलकर, एसपी मेहरा समेत अन्य लोग आंदोलन स्थल पर मौजूद रहे।

pradeep sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned