किशोर के परिजनों ने लगाए गोताखोर और हैलोजन लाइट

। माचना एनीकेट में नहाने के दौरान डूबे किशोर का २८ घंटे बाद भी पता नहीं चला सका है। किशोर के परिजन भूखे प्यासे एनीकेट पर ही बैठे हैं। यहां तक कि परिजनों के द्वारा ही घटना स्थल पर हैलोजन की व्यवस्था की है।

By: ghanshyam rathor

Published: 05 Sep 2019, 03:04 AM IST


बैतूल। माचना एनीकेट में नहाने के दौरान डूबे किशोर का २८ घंटे बाद भी पता नहीं चला सका है। किशोर के परिजन भूखे प्यासे एनीकेट पर ही बैठे हैं। यहां तक कि परिजनों के द्वारा ही घटना स्थल पर हैलोजन की व्यवस्था की है। अपने पैंसों से ही कुछ गोताखोरों को भी लगाया है। परिजनों ने प्रशासन की अभी तक की कार्रवाई को नाकाफी बताया है। परिजनों का कहना है कि सुबह से नागपुर की एनडीआरएफ की टीम पहुंचने की बात कही जा रही है,लेकिन अभी तक टीम नहीं पहुंची है। वही अधिकारियों द्वारा देर रात तक बड़वानी से एनडीआरएफ की टीम पहुंचने की बात कही जा रही है।
शंकर वार्ड निवासी १६ वर्षीय यश उर्फ चिंटू पिता दीपक टिटारिया माचना एनीकेट में मंगलवार अपने दोस्तों के साथ नहाने गया था। अचानक गहरे पानी में चले जाने से यश का पता नहीं चल पा रहा है। मंगलवार दोपहर से ही होमगार्ड सैनिक उसकी तलाश कर रहे हंैं। बुधवार सुबह फिर एक बार यश की तलाश की गई,लेकिन शाम तक पता नहीं चल सका था। यश के पिता दीपक ने बताया कि पूरा परिवार टकटकी लगाए हुए नदी के पास ही बैठा है। मंगलवार रात तक यही बैठे थे। बुधवार फिर सुबह से आ गए हैं। परिवार के सदस्यों ने घर में भोजन तक नहीं बनाया है। आस पड़ोस के लोग ही घर से चाय नाश्ता करवा रहे हैं। बच्चे को निकालने अभी तक प्रशासन की ओर से कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गई है। होमगार्ड के सैनिक नाव में बैठकर ही गल डालकर तलाश कर रहे हैं। सुबह से कहा जा है कि नागपुर से एनडीआर की टीम आ रही है,लेकिन अभी तक नहीं पहुंची है। दीपक ने बताया कि यहां तक कि नदी पर लाइट की व्यवस्था भी किराए से हमारे द्वारा ही की गई है। दो गोतखोर भी दो-दो हजार रुपए के लगाए हैं।
नहीं पहुंचे कोई जनप्रतिनिधि
माचना एनीकेट पर वार्ड पार्षद के नाते आनंद प्रजापति ही आए हैं। अन्य जनप्रतिनिधि और अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचे हैं। जिससे भी परिजनों में आक्रोश है। बताया जा रहा है कि शाम के समय एसपी कार्तिकेयन के ने माचना एनीकेट पहुंचकर घटना स्थल का निरीक्षण किया है।
इनका कहना
हमारे द्वारा एनडीआरएफ की टीम के लिए सभी जगह पर प्रयास किया है। अधिकांश जगहों पर टीम इंगेज हैं। बड़वानी टीम से संपर्क हुआ है। उन्होंने आने की बात कही है। देर रात टीम पहुंचने पर सुबह से बच्चे की तलाश की जाएगी।
कार्तिकेयन के एसपी बैतूल।

ghanshyam rathor Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned