सब सीखेंगे ई-रजिस्ट्री का फंडा

सब सीखेंगे ई-रजिस्ट्री का फंडा
betul

Mukesh Kumar Sharma | Publish: Jun, 15 2015 11:32:00 PM (IST) Betul, Madhya Pradesh, India

प्रदेश मे पायलट प्रोजेक्ट के तहत पांच जिलों में ई-रजिस्ट्री के बाद यह अन्य जिलों मे भी शुरू हो सकती है।

बैतूल।प्रदेश मे पायलट प्रोजेक्ट के तहत पांच जिलों में ई-रजिस्ट्री के बाद यह अन्य जिलों मे भी शुरू हो सकती है। ऑनलाइन रजिस्ट्री को लेकर पंजीयक कार्यालय में भी तैयारियां कर ली गई है। ई-रजिस्ट्री किस तरह की जाएगी इसका फंडा समझाने मंगलवार को कलेक्टोरट में डेमो किया जाएगा।
जिले में संपत्ति की ई-रजिस्ट्री कभी भी शुरू हो सकती है।


इसको लेकर पंजीयक कार्यालय में तैयारियां भी कर ली गई है। ई-रजिस्ट्री को लेकर सिर्फ निर्देश आना बाकी है। ई-रजिस्ट्री को लेकर पंजीयक कार्यालय में चार कम्प्यूटर,वीडियो कैमरा, इलेक्ट्रानिक पेन,स्केनर की व्यवस्था की गई है। कम्प्यूटरों में साफ्टवेयर में भी अपलोड किया गए हैं।


ई-रजिस्ट्री की बारीकियां सिखाने कलेक्टोरेट में मंगलवार को डेमो भी किया जाएगा। डेमो मे रजिस्ट्री से जुड़े लोगों वकील, स्टांप वेंडर, सर्विस प्रोवाइडर, जनप्रतिनिधि और समाजसेवियों को शामिल कर जानकारी दी जाएगी। ई-रजिस्ट्री को लेकर 19 सर्विस प्रोवाइडर को लाइसेंस जारी किया गया है।

ये होगा फायदा


ई-रजिस्ट्री होने से संपत्ति की खरीदी और बिक्री करने वाले लोगों को भी फायदा होगा। रजिस्ट्री जल्द हो सकेगी, अलग से फोटो नहीं खिंचवाना पड़ेगा। धोखाधड़ी नहीं हो सकेगी।

पहले से तय होगा टाइम स्लाट, पंजीयक कार्यालय में लंबी कतार से मुक्ति मिलेगी। रजिस्ट्री में होने वाले भ्रष्टाचार से भी छुटकारा मिलेगा।


ऎसी होगी ई- रजिस्ट्री

संपत्ति की ई-रजिस्ट्री के लिए रजिस्ट्री कराने वाले को सबसे पहले सर्विस प्रोवाइडर के पास जाना पड़ेगा। इनके द्वारा जमीन से संबंधित खरीदी-बिक्री को लेकर जानकारी भरी जाएगी। रजिस्ट्री और स्टांप का शुल्क और सर्विस प्रोवाइडर केा देना होगा। इसके बाद सर्विस प्रोवाइडर से ही अपने चाहे अनुसार रजिस्ट्री की तारीख मिल जाएगी।

ऑनलाइन जानकारी पंजीयक लिपिक के पास पहुंचेगी। यहां पर चेक करने के बाद खरीदने वाले बेचने वाले की फोटो खींची जाएगी। इसके बाद सब रजिस्टार के पास पहुंचेगी। अधिकारी द्वारा जांच के बाद खरीदने और बेचने वाले से हस्ताक्षर करवाएं जाएंगे। इसके बाद अधिकारी द्वारा इलेक्ट्रानिक पेन से हस्ताक्षर किए जाएंगे। संपत्ति खरीदने वाले को हाथोहाथ रजिस्ट्री मिल जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned