पढ़े, टोटल लॉक डाउन में सब कुछ बंद, शाम को बजाई थालियां और शंख

कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए जिले भर के लोगों ने सहयोग किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा रविवार को जनता कफ्र्यू घोषित किया था। इसका व्यापक असर नजर आया। एक भी दुकानें और प्रतिष्ठान नहीं खुल सकी। सड़कों पर सिर्फ इमरजेंसी सेवा में लगे इक्का-दुक्का लोग ही नजर आए। जिससे सड़कों पर दिन भर पूरी तरह सन्नाटा पसरा रहा।

बैतूल। कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए जिले भर के लोगों ने सहयोग किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा रविवार को जनता कफ्र्यू घोषित किया था। इसका व्यापक असर नजर आया। एक भी दुकानें और प्रतिष्ठान नहीं खुल सकी। सड़कों पर सिर्फ इमरजेंसी सेवा में लगे इक्का-दुक्का लोग ही नजर आए। जिससे सड़कों पर दिन भर पूरी तरह सन्नाटा पसरा रहा। सुबह से शाम तक एक जैसे ही हालत बने रहे। टे्रनों और बसों की आवाजाही तक बंद रही। वही रेलवे स्टेशन पर भी जांच के लिए स्वास्थ्य कर्मचारियों को तैनात किया हैं। वही शाम को पांच बजे प्रधानमंत्री मोदी की अपील पर ही लोगों ने अपने घरों, बालकनी आदि में खड़े होकर थाली, शंख और घंटी बजाकर कोरोना से बचाव कार्य को लेकर सेवा में लगे लोगों का अभिवादन किया। शांति व्यवस्था बनाने जिले भर में पुलिस बल तैनात किया था। वही जिले में कोरोना के संक्रमण को रोकने कलेक्टर ने शनिवार रात से आगामी आदेश तक टोटल लॉक डाउन कर दिया है। जनता कफ्र्यू रविवार रात में नौ बजे तक समाप्त हो गया था,लेकिन टोटल लॉक डाउन के चलते कोरोना बीमारी को रोकने आगामी आदेश तक व्यापक प्रबंध किए गए हैं।
सड़कों पर सन्नाटा,होते रहा एनाउंसमेंट
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जनता कफ्र्यू का रविवार सुबह से ही असर नजर आया। सुबह से ही मेडिकल और शराब दुकानों को छोड़ दिया जाए तो एक भी दुकानें नहीं खुल सकी। यहां तक पेट्रोल पंप भी बंद रहे। सड़़कों पर लोगों की आवाजाही पूरी तरह से बंद रही। सड़क पर सिर्फ पुलिसकर्मी और आवश्यक सेवाओं के लिए आने-जाने वाले अधिकारी व कर्मचारी ही नजर आए। सुबह से शाम तक एक जैसे हालात नजर रहे। वहीं कुछ लोग जो कि बाहर जाने के लिए शहर में आ गए थे पुलिस ने वापस कराया। वही कुछ दुकानें खुली थी,उन्हें भी बंद कराया। नगर पालिका और पुलिस का वाहन शहर में एनाउंसमेंट करते नजर आया। मोहल्ले में भी पुलिस वाहन पहुंचा। शहर में बस, टैक्सी, आटो की आवाजाही भी पूरी बंद रही। लोगों ने कोरोनों से लडऩे से स्वेच्छा से अपने प्रतिष्ठान बंद रखे और घर से बाहर भी नहीं निकले।
थाली व शंख बजाकर किया अभिवादन
जनता कफ्र्यू में आवश्यक सेवाएं शुरू रही। विद्युत कंपनी, नगर पालिका, पुलिस और स्वास्थ्य कर्मचारी लोगों की सेवाएं में मुस्तैद नजर आए। कर्मचारी अपनी डयूटी पर तैनात रहे और सेवाएं देते रहे। जिससे कि लोगों को आवश्यक सेवाओं के लिए परेशान नहीं होना पड़ा। अस्पताल में जहां इलाज की सेवांए शुरू रही। वही नगर पालिका कर्मचारियों ने छिड़काव किया। विद्युत वितरण कंपनी के कर्मचारी भी बिजली सुधारते और लोगों को बीमारी से जागरुक करते नजर आए। वही जनता कफ्र्यू के तहत प्रधानमंत्री द्वारा शाम को पांच बजे के लगभग कोरोना से लडऩे जनता की सेवा में लोगों का थाली, घंटी, शंख बजाकर अभिवादन करने की अपील की थी। पांच बजते ही लोग घर से बाहर आ गए। मकानों की गैलरी और छतों पर थाली बजाई। कुछ देर के लिए पूरे शहर में थाली और शंख की ही आवाज सुनाई दे रही थी। लोगों ने पुलिस का अभिवादन किया।
आगामी आदेश तक जारी रहेगा लॉक डाउन
कोरोना संक्रमण को रोकने कलेक्टर राकेश सिंह ने शनिवार रात से पूरे जिले भर में लॉक डाउन घोषित कर दिया है। धारा १४४ के तहत भी कई प्रावधान किए हैं,जिसका पालन अनिवार्य किया है। टोटल लॉक डाउन में किसी को भी घर से निकलने की अनुमति नहीं होगी। जिले की सभी सीमाएं सील रहेगी। किसी भी माध्यम सड़क व रेल से जिले की सीमा में बाहरी लोगों का आवागमन प्रतिबंधित रहेगा। जिले में निवासरत लोगों का जिले के सीमा से बाहर जाना प्रतिबंधित रहेगा। जिले के समस्त शासकीय और अद्र्धशासकीय कार्यालय बंद रहेंगे। अति आवश्यक सेवा वाले विभाग राजस्व, स्वास्थ्य, पुलिस, विद्युत, दूरसंचार, नगरपालिका, पंचायत खुले रहेंगे।मेडिकल दुकान, हॉस्पीटल छोड़कर सभी प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। इमरजेंसी डयूटी वाले शासकीय कर्मचारी केवल डयूटी के दौरान लॉक डाउन प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे।
लॉकडाउन के दौरान यह मिलेगी सुविधा
१. जिले में सुबह 6.30 बजे से सुबह 9.30 बजे तक समाचार पत्रों, दूध एवं अन्य आवश्यक वस्तुओं की होम डिलेवरी की जा सकेगी, परन्तु इसके लिए कोई दुकान नहीं खोली जा सकेगी।
२. लॉक डाउन अवधि के दौरान दवा दुकानें एवं सभी अस्पताल खुले रहेंगे। आवश्यक दवाओं की होम डिलेवरी भी की जा सकेगी।
३. बैंकों सहित समस्त कार्यालय एवं शासकीय प्रतिष्ठान इस दौरान बंद रहेंगे।
४. हाईवे पर स्थित पेट्रोल पम्प खुले रहेंगे। समस्त नगर पालिकाओं की सीमा अन्तर्गत पेट्रोल पम्प बंद रहेंगे।
५. शासकीय अत्यावश्यक सेवाओं वाले वाहन जिन पेट्रोल पम्पों से डीजल अथवा पेट्रोल प्राप्त करते हैं, उन पेट्रोल पम्पों को ऐसे वाहनों को पेट्रोल अथवा डीजल प्रदाय करने की अनुमति रहेगी।
६. विवाह एवं अन्य सामूहिक कार्यक्रम आयोजित नहीं होंगे। किसी भी नागरिकों को ऐसे आयोजन करने के लिए छूट नहीं दी जाएगी।
७. गैस वितरण कम्पनियों को गैस सिलेंडर की होम डिलेवरी करने की अनुमति रहेगी।
८.बाजारों में समस्त दुकानें अथवा प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक बंद रहेंगे।

Devendra Karande Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned