वरिष्ठता का नहीं मिला लाभ

वरिष्ठता का नहीं मिला लाभ

Pradeep Sahu | Publish: Sep, 07 2018 12:23:24 PM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

अध्यापकों ने आठनेर में रैली निकालकर जताई नाराजगी

बैतूल. मप्र सरकार द्वारा अध्यापकों के लिए शिक्षा विभाग में संविलियन की प्रक्रिया को लेकर राजपत्र जारी किया गया है। जारी राजपत्र में सेवा शर्ते अपूर्ण होने के कारण से ब्लॉक स्तर से लेकर प्रदेश स्तर तक लाखों अध्यापकों ने इस प्रक्रिया का विरोध करना शुरू कर दिया है। अध्यापक संघर्ष समिति के प्रांतीय सह संयोजक लीलाधर नागले ने कहा कि जारी राज पत्र प्रक्रिया में जारी राजपत्र में अनेकों विसंगतियां है। इन विसंगतियों के कारण प्रदेश के 2 लाख 84 हजार अध्यापक नाराज है। गौरतलब है कि अध्यापकों ने बीते दो सितंबर को शाह जहानी पार्क में नाराजगी व्यक्त की थी। प्रांतीय निर्णय अनुसार शिक्षक दिवस को काला दिवस मनाने का निर्णय हुआ था। शिक्षक दिवस के मौके पर आठनेर ब्लॉक के सैकड़ों अध्यापकों ने काली पट्टी बांधकर अपना विरोध प्रदर्शन किया और शिक्षक दिवस का बहिष्कार किया। नागले ने बताया कि अध्यापकों की प्रमुख मांगो में अध्यापक संवर्ग का शिक्षा विभाग के अधीन बनाए केडर में नियुक्ति दिनांक से वरिष्ठता का लाभ दिया जाए, 21 जनवरी 2008 को सीएम हाउस से घोषणा पर अमल हो, एक कैडर एक विभाग एक शिक्षक में संविलियन किया जाए, ग्रेच्युटी और उपादान के लिए सेवा की गणना प्रथम नियुक्ति दिनांक से की जाए, पुरानी नियमित पेंशन बहाली की जाने आदि मांगें शामिल हैं। अध्यापकों ने कहा कि लंबे समय से वे अपनी मांगों को लेकर मांग कर रहे हैं पर इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। इस बार अध्यापकों पुरजोर विरोध करेंगे। अध्यापकों ने अपनी लंबित मांगों के निराकरण को लेकर काली पट्टी बांधकर काले कपड़े पहनकर अंबेडकर स्थल से रैली निकालकर तहसीलदार मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन सौंपने वालों में संदीप लहरपुरे, सुनील धोटे, कमलेश खातरकर, संजू इवने सहित बड़ी संख्या में अध्यापक उपस्थित रहे।

 

आयोग सदस्य ने चौपाल पर सुनी समस्या -

शाहपुर पत्रिका. घोड़ाडोंगरी ब्लॉक के पचामा पंचायत के अंतर्गत भोड़की ग्राम में राज्य महिला आयोग सदस्य गंगा उइके एवं जिला आयोग सखी हेलीना पीटर ने ग्राम चौपाल लगाकर महिलाओं एवं ग्रामीण की समस्याएं सुनी। महिला आयोग की विधिक सहायता सेवा कार्य योजना के अंतर्गत भुड़की ग्राम पहुंची। महिला आयोग सदस्या एवं जिला आयोग सखी को महिलाओं ने ग्राम की मूलभूत समस्याओं से अवगत कराकर अपनी शिकायतें बताकर निराकरण की मांग की।
इस दौरान ग्रामीण महिलाओं ने उन्हें बताया कि भुड़की पंचामा ग्राम में पिछले दिनों आधार कार्ड बनाए थे, जिसमें कई खामियां होने से उन्हें शासन की योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा है। जिस पर महिला आयोग सदस्या गंगा उइके ने तत्काल ई गर्वेनेश अधिकारी विकास गुप्ता से चर्चा कर पंचायत स्तर पर शिविर लगाकर आधार कार्ड की त्रुटियों का निराकरण करने को कहा। ग्रामीणों ने आयोग को बताया कि भुडकी पचामा से 6 किमी दूर का सफर कर एक सैकड़ से अधिक बच्चे खदारा ग्राम के स्कूल पढऩे जाते हैं, जिससे कई समस्याओं का सामना बच्चों को करना पड़ता है एवं कई महिलाओं को आज तक उज्वला योजना का लाभ नहीं मिल पाया है। ग्राम चौपाल में आयोग सदस्या गंगा उइके एवं जिला आयोग सखी हेलिना पीटर ने मुख्यमंत्री द्वारा चलाए जा रहे कमल शक्ति कार्यक्रम के संबंध में भी विस्तार से जानकारी दी।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned