यह पेड़ राहुल के लिए बन गया मुसीबत, पढ़ें पूरी खबर

लोगों के विरोध के बाद राहुल को तीन दिन में बताना होगा कारण

By: rakesh malviya

Published: 07 Jun 2018, 08:00 AM IST

मुलताई. कहते हैं मुसीबत कभी छोटी-बड़ी नहीं होती। ऐसी ही एक मुसीबत में फंसे हैं इन दिनों राहुल। इनके लिए एक पेड़ परेशानी का कारण बन गया है। लोगों के हो रहे घोर विरोध के बाद अब राहुल को तीन दिन में जबाव देना है कि यह पेड़ क्यों काटा गया। दरअसल बैतूल जिले के मुलताई नगर पालिका द्वारा ताप्ती सरोवर के मध्य प्राकृतिक टापू के मूलस्वरूप को बदलने तथा हरा भरा पेड़ काटने का पूरे नगर में विरोध हो रहा है। एक दिन पूर्व ही महिलाओं के संगठन ताप्ती वाहिनी द्वारा एसडीएम को ज्ञापन सौंपकर पेड़ काटने तथा टापू के मूलस्वरूप से छेड़छाड़ करने के जिम्मेदार लोगों पर एफआईआर करने की मांग की गई थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसडीएम राजेश शाह ने इस संबंध में सीएमओ राहुल शर्मा से 3 दिन में जवाब मांगा गया है। पूर्व मे ंपूरे मामले की शिकायत कांग्रेस महिला पार्षद निशा भारती द्वारा भी की गई थी। जिसमें नगर पालिका पर आरोप लगाया गया था कि टापू पर सप्तऋषि की स्थापना के नाम पर कांक्रिटीकरण किया जा रहा है जिसमें हरे-भरे पेड़ों की बलि भी दी गई जिससे श्रद्धालुओं की भावनाएं भी आहत हो रही है। गौरतलब है कि एक तरफ नगर पालिका द्वारा पवित्र सरोवर में गंदगी रोकने के कोई व्यवस्थित प्रबंध नहीं किए गए हैं लेकिन सरोवर के प्राकृतिक स्वरूप से छेड़छाड़ की जा रही है। टापू से हरा भरा पेड़ काटने का मामला नगर में चर्चा का विषय बना हुआ है।

श्रद्धालुओं की आस्था से खिलवाड़
पवित्र ताप्ती सरोवर में स्थित टापू के मूल स्वरूप को नगर पालिका द्वारा बिगाडऩे का प्रयास किया जा रहा है। निर्माण के नाम पर जहां टापू पर स्थित हरा-भरा पेड़ काट दिया गया है वहीं वर्षों पुराने इस टापू का कांक्रिटीकरण कर श्रद्धालुओं की आस्था से खिलवाड़ किया जा रहा है। यह आरोप पार्षद निशा भारती द्वारा एसडीएम राजेश शाह से करते हुए कही कि नपा की पीआईसी द्वारा मनमाने तरीके से प्रस्ताव लेकर ताप्ती सरोवर का मूल स्वरूप ही बिगाड़ा जा रहा है जबकि इसके लिए ना तो कलेक्टर से स्वीकृति ली गई है और ना ही पर्यटन विभाग को सूचना दी गई है। उन्होंने बताया कि नपा अध्यक्ष हेमंत शर्मा द्वारा सरोवर के मध्य टापू पर लगा वर्षों पुराना हरा-भरा पेड़ कटवा दिया है। पार्षद भारती ने ताप्ती सरोवर के मूलस्वरूप से छेड़छाड़ करने वालों पर कार्रवाई की मांग की है। बताया जाता है कि इस संबंध में सीएमओ राहुल शर्मा ने बताया कि पीआईसी की बैठक में टापू पर सप्तऋषि की प्रतिमाओं की स्थापना का प्रस्ताव लिया है। इसलिए पेड़ कटवाया गया है।

rakesh malviya Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned