पढ़े, बिना एक्सचेंज के गंभीर मरीजों को दिया 246 यूनिट रक्त

लॉक डाउन में भी रक्तदान करने वाले में उत्साह बना हुआ है। रक्त जरुरतमंदों के काम आ रहा है। कोरोना के इस संक्रमण काल में रक्त दान करने वाले लोग भी संकट के साथी बने हुए हैं। लॉक डाउन लगने के बाद से अभी तक जिला अस्पताल में ३२० यूनिट रक्तदान हुआ है।

By: Devendra Karande

Published: 18 Apr 2020, 05:03 AM IST

बैतूल। लॉक डाउन में भी रक्तदान करने वाले में उत्साह बना हुआ है। रक्त जरुरतमंदों के काम आ रहा है। कोरोना के इस संक्रमण काल में रक्त दान करने वाले लोग भी संकट के साथी बने हुए हैं। लॉक डाउन लगने के बाद से अभी तक जिला अस्पताल में ३२० यूनिट रक्तदान हुआ है। जिसमें से जिला अस्पताल में भर्ती गंभीर मरीजों को बिना एक्सचेंज के 246 यूनिट रक्त दिया गया है। 81 यूनिट मेटरनिटी और बच्चा वार्ड में दिया गया। निजी अस्पतालों को भी रक्त उपलब्ध कराया गया।
ब्लड बैंक इंचार्ज डॉ. अंकिता सीते ने बताया कि 22 मार्च से जनता कफ्र्यू, फिर लॉक-डाउन होने से रक्तदान शिविर नहीं हो रहा था। रक्त की जरुरत वाले मरीजों को रक्त की पूर्ति करना चिंता का विषय बन गया था। ब्लड बैंक का स्टॉक लगातार कम हो रहा था। सोशल मीडिया पर रक्तदान के लिए अपील की। जिससे प्रेरित होकर जिले के रक्तवीरों ने जरुरतमंद मरीजों के लिए जिला अस्पताल के ब्लड बैंक में आकर स्वेच्छा से रक्तदान किया। डॉ. सीते ने बताया कि इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह पालन किया गया। रक्तदाताओं को उनके घर से स्वास्थ्य विभाग के वाहन से जिला अस्पताल तक लाए जाने की व्यवस्था की गई। जिले के दुर्गम इलाकों से भी आकर रक्तवीरों ने रक्तदान किया। बैतूल मोबाइल एसोसिएशन के तत्वावधान में जिला अस्पताल ब्लड बैंक में २८ यूनिट रक्तदान किया गया।
३२० यूनिट रक्तदान किया
सोशल मीडिया पर जिला रक्तकोष अधिकारी द्वारा अपील की गई। ब्लड बैंक फेसबुक पेज और अन्य प्लेटफार्म का उपयोग किया गया।18 से 25 साल के बीच के युवा भी रक्तदान करने आए। कई युवाओं ने पहली बार रक्तदान किया। 22 मार्च से 17 अप्रैल तक कुल 320 यूनिट रक्तदान हुआ। रक्तदान के इस पुनीत कार्य में कई समाजसेवी संस्थाएं, व्यापारी संघ, युवा और महिलाएं शामिल हैं।

Devendra Karande Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned