पढ़े, शहर में कल से शुरू होगी स्पॉट बिलिंग सेवा

विद्युत वितरण कंपनी १५ जनवरी यानि कल से स्पॉट बिलिंग सुविधा पूरे शहर में शुरू करने जा रही है। जिसके तहत बिजली उपभोक्ताओं के परिसर में जब मीटर रीडर रीडिंग लेने जाएगा तो उसी समय मीटर में दर्ज खपत के आधार पर बिजली बिल प्रिंट कर उपभोक्ताओं को प्रदान करेगा।

बैतूल। विद्युत वितरण कंपनी १५ जनवरी यानि कल से स्पॉट बिलिंग सुविधा पूरे शहर में शुरू करने जा रही है। जिसके तहत बिजली उपभोक्ताओं के परिसर में जब मीटर रीडर रीडिंग लेने जाएगा तो उसी समय मीटर में दर्ज खपत के आधार पर बिजली बिल प्रिंट कर उपभोक्ताओं को प्रदान करेगा। उक्त बिल की राशि का भुगतान उपभोक्ताओं को सीएससी सेंटर के माध्यम से करना होगा। विद्युत वितरण कंपनी द्वारा बैतूल शहर में कुल ८६ सीएससी सेंटर से अनुबंध किया गया है। बिजली उपभोक्ता को अब सीएससी सेंटर और ऑनलाइन माध्यम से बिल जमा करना होगा। हालांकि कंपनी कुछ दिनों तक केश सेंटर को भी संचालित रखेगी ताकि परेशानी होने पर उपभोक्ता इसके माध्यम से बिल जमा कर सकें।
मीटर रीडिंग के साथ ही मिलेगा बिजली का बिल
विद्युत वितरण कंपनी की स्पाट बिलिंग सेवा के तहत बिजली उपभोक्ताओं को मीटर रीडिंग के दौरान ही मीटर में दर्ज खपत के आधार पर बिजलीभ्बिल प्रिंट करके दे दिया जाएगा। आकार में यह बिल पर्ची की तरह लंबा होगा। जबकि वर्तमान में कंपनी द्वारा वर्गाकार आकार के कागज में बिल दिया जाता है। उपभोक्ता इस बिल को ले जाकर सीधे सीएससी सेंटर के माध्यम से जमा करा सकता है। इस बिलिंग सेवा से यह फायदा होगा कि जिन्हें बिल नहीं मिलते थे अब उन्हें हाथों-हाथ बिल मिल जाया करेंगे। वहीं बिल तत्काल रीडिंग के आधार पर लिया जाएगा जिससे बिल अधिक दिए जाने जैसी समस्या का भी समाधान हो सकेगा।
योजना में भुगतान शुल्क का बड़ा पेच
विद्युत वितरण कंपनी १५ जनवरी २०२० से शहर के सभी कैश काउंटरों को बंद कर कैशलेस योजना को बढ़ा देने की दिशा में कदम उठा रही है लेकिन कैशलेस योजना की सफलता को लेकर एक बड़ा प्रश्न चिन्ह भी लग गया है। विद्युत कंपनी के मुताबिक बिजली उपभोक्ताओं को कॉमन सर्विस सेंटर के माध्यम से बिजली बिलों का भुगतान करना होगा लेकिन कंपनी ने अभी तक यह नहीं बताया है कि कॉमन सर्विस सेंटर बिजली बिल जमा करने के बदले में उपभोक्ता से कोई अतिरिक्त शुल्क तो वसूल नहीं करेंगे। या फिर कंपनी अतिरिक्त शुल्क वहन करेगी। यदि कॉमन सर्विस सेंटर में बिजली बिल भुगतान का अतिरिक्त शुल्क उपभोक्ताओं से वसूल किया जाता है तो उनकी जेबों पर भार पड़ेगा।
जिले भर में ११८४ कॉमन सर्विस सेंटर
बैतूल जिले में ११८४ कॉमन सर्विससेंटर संचालित होना बताए जाते हैं। कंपनी की कैशलेस योजना के तहत इन कॉमन सर्विस सेंटर के माध्यम से बिजली उपभोक्ता बिलों का आसानी से भुगतान कर सकेंगा। हालांकि अभी बैतूल शहरी क्षेत्र में ही कॉमन सर्विस सेंटर के माध्यम से बिल जमा करने की योजना शुरू की गई है, लेकिन जल्द ही इसे ग्रामीण क्षेत्रों में भी लागू किया जाएगा। अभी तक बिजली उपभोक्ता को बिल जमा करने के लिए कंपनी के कार्यालय आना पड़ता था लेकिन अब वह अपने गांव में कॉमन सर्विस सेंटर के माध्यम से बिल जमा कर सकेगा। बिल भुगतान संबंधी उसे सभी प्रकार की सुविधाएं भी मिलेंगी। वर्तमान में बिजली बिल जमा करने के लिए विद्युत कंपनी द्वारा जिले भर में ५० कैश काउंटर बनाए गए हैं। चार एटीपी मशीनें भी लगाई गई है।

Devendra Karande
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned