सपाक्स का बंद, लगाया जाम, थम गए रास्ते

सपाक्स का बंद, लगाया जाम, थम गए रास्ते

sandeep nayak | Publish: Sep, 06 2018 01:53:14 PM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

बैतूल में किया प्रदर्शन

बैतूल. केंद्र सरकार द्वारा पारित एससी एसटी एक्ट संशोधन के विरोध में सपाक्स के भारत का बंद का बैतूल में व्यापक असर देखा गया। दोपहर में सपाक्स ने शहर में जाम लगा दिया। जिससे रास्ते कुछ देर के लिए थम गए। इसके पहले सुबह से शहर की दुकानें बंद रहीं। लोग चाय नाश्ते के लिए दुकानें तलाशते देखे गए। गौरतलब है कि एक दिन पहले ही बुधवार को सपाक्स ने बंद का ऐलान किया था। वहीं ओबीसी महासभा ने इस बंद का समर्थन देने इंकार कर दिया था।

सपाक्स समाज के संभागीय प्रभारी राजीव खंडेलवाल और इसके जिलाध्यक्ष दिनेश महस्की ने बताया कि पूरे देश में एससी, एसटी एक्ट के विरोध में जो बंद का आव्हान किया है। सपाक्स समाज ने सभी से इस बंद को पूर्णत: शांतिपूर्ण रखने की अपील की है। उन्होंने बताया कि दोपहर एक बजे सभी लोगों की ओर से राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन कलेक्टर को सौंपा जाएगा।

पुलिसबल रहा तैनात
बंद के दौरान बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा। सपॉक्स के सदस्यों ने रैली निकालकर लोगों से अपने प्रतिष्ठान बंद करने का आवाहन किया।

ओबीसी महासभा का समर्थन नहीं
गुरुवार भारत बंद एवं सपाक्स आंदोलन को ओबीसी समाज का कोई समर्थन नहीं है। इस संबंध में बुधवार ओबीसी महासभा के पदाधिकारियों ने अपर कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा है। ओबीसी महासभा के जिला संयोजक योगेश धामोड़े ने बताया कि सर्वोच्च न्यायालय के आदेश पर केन्द्र सरकार द्वारा एससी, एसटी लागू किया गया है, जिसका ओबीसी समाज स्वागत करता है। वहीं सपाक्स द्वारा इस एक्ट का विरोध किया जा रहा है जो कि भारतीय संविधान के विरोध में है। सपाक्स द्वारा यह प्रचार किया जा रहा है।

 

पुलिस के इंतजाम दुरुस्त
पुलिस ने बंद को देखते हुए सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए हैं। इसके लिए जिले भर में 400 सुरक्षा जवान तैनात किए गए हैं। बंद के दौरान सामान्य, पिछड़ा व अल्पसंख्यक वर्ग के लोग प्रदर्शन किया। व्यापारी महासंघ ने भी बंद को समर्थन दिया है। बाजार बंद रहेंगे।

इनको मिली छूट
बंद के दौरान सिर्फ मेडिकल व पेट्रोल पंप के लिए छूट दी गई। ये दोनों ही गुरुवार को सुबह से खुले रहे। पंप सिर्फ रैली के दौरान बंद रहे।

Ad Block is Banned