संभलकर चलिए आप फोरलेन पर हैं!

आप फोटो में जो सड़क देख रहे हैं वह कोई आम सड़क नहीं है बल्कि १३२१.१४ करोड़ की लागत से बैतूल से औबेदुल्लागंज तक बन रहा फोरलेन है। जो पहली ही बारिश में ही उखडऩे लगा है। सड़क पर जगह-जगह गड्ढें उग आए है।

By: Devendra Karande

Published: 07 Jul 2019, 05:04 AM IST

बैतूल/जामठी/शाहपुर। आप फोटो में जो सड़क देख रहे हैं वह कोई आम सड़क नहीं है बल्कि १३२१.१४ करोड़ की लागत से बैतूल से औबेदुल्लागंज तक बन रहा फोरलेन है। जो पहली ही बारिश में ही उखडऩे लगा है। सड़क पर जगह-जगह गड्ढें उग आए है। पेचवर्क के नाम पर जितेंद्र सिंह एंड कंपनी द्वारा लीपापोती कर गड्ढों को भरा जा रहा है। बताया गया कि कंपनी पिछले चार महीने से फोरलेन का निर्माण कर रही है लेकिन कंपनी के निर्माण कार्य की गुणवत्ता को लेकर अब सवाल उठने लगे हैं। पिछले चार दिनों से जारी बारिश के कारण साकादेही के पास पुलिया के नीचे से पानी की निकासी नहीं होने के कारण आसपास के खेतों में पानी भरा गया था। कंपनी के कर्मचारियों को चालू लेन को बंद कर सड़क के किनारे से खुदाई करना पड़ी और ट्रैफिक को दूसरे लेन पर डायवर्ट करना पड़ा है, लेकिन भारी वाहनों की आवाजाही के कारण बार-बार जाम की स्थिति बन रही थी। पत्रिका की टीम ने शनिवार को जब फोरलेन निर्माण की पड़ताल की तो हालात चौंकाने वाले थे। बारिश के चलते निर्माण कार्य धीमा पड़ गया है और सड़क पर गड्ढों की वजह से वाहन चालकों को दिक्कतें हो रही है।
दो महीने में ही उखड़ गई सड़क
बैतूल से इटारसी के मध्य पहले पार्ट में बन रहे फोरलेन निर्माण में दो लेन पर एक साथ काम चल रहा है। एक लेन पर डामरीकरण कर उसे आवागमन के लिए खोल दिया गया है जबकि दूसरे लेन पर सड़क बनाने का काम चालू हैं। जिस लेन को ट्रैफिक के लिए खोला गया है उसमें पहली बारिश में ही गड्ढें होना शुरू हो गए हैं। हैवी ट्रैफिक की वजह से बारिश में सड़क की हालत खस्ताहाल हो रही है। जामठी, साकादेही, आठवां मिल से शाहपुर तक सड़क पर जगह-जगह गड्ढे होना बताए जाते हैं। फोरलेन पर बन रही सड़क की इस स्थिति को देखकर लोग भी हैरत में है क्योंकि सड़क निर्माण कार्य के दौरान ही उखडऩे लगी है। तो ऐसे में सड़क का निर्माण पूरा होने के बाद क्या स्थिति होगी इसका अंदाजा सहज लगाया जा सकता है।
पुल-पुलिया का निर्माण भी घटिया
फोरलेन पर जो पुल-पुलियाओं का निर्माण किया जा रहा है उसकी गुणवत्ता एवं डिजाइन को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं। साकादेही के पास जिस पुलिया का निर्माण किया गया है वह सड़क से काफी नीचे बना दी गई है। पुलिया से पानी निकासी नहीं होने के कारण शुक्रवार को बारिश का पानी आसपास के खेतों में भर गया था। शनिवार को फोरलेन निर्माण कर रही कंपनी ने मौके पर पहुंचकर चालू लेन को बंद कर दूसरे लेन पर ट्रैफिक को डायवर्ट किया। जिसके बाद पानी निकासी के लिए फोकलेन मशीन से पुलिया के आसपास खुदाई कराई गई। दूसरे लेन पर ट्रैफिक को निकालने के लिए टेम्पेरी व्यवस्था की गई है लेकिन भारी वाहनों की आवाजाही के कारण बार-बार जाम की स्थिति बन रही है।
बारिश के चलते बढ़ी परेशानी
बारिश के चलते जहां फोरलेन का काम थम गया है वहीं जगह-जगह रूट डायवर्ट होने से वाहन चालकों को भी आवागमन में खासी दिक्कतें आ रही है। बताया गया कि फोरलेन पर दो लेन पर एक साथ काम चल रहा है। एक लेन पर कुछ हिस्से में डामरीकरण कर दिया है जिस पर रूट डायवर्ट किया गया है जबकि दूसरे लेन पर निर्माण कार्य चालू है। बारिश में बार-बार लेन बदलने के कारण हादसे का अंदेशा भी बना हुआ है। कंपनी द्वारा रूट डायवर्शन के लिए सड़क पर कोई संकेतक नहीं लगाए हैं जिसके कारण रात में वाहन चालकों को खासी दिक्क्तों का सामना करना पड़ रहा है।
देरी से ४२९ करोड़ बढ़ी लागत
चार साल बंद पड़े रहने से फोरलेन की लागत 429 करोड़ रुपए बढ़ गई है। अब बैतूल से इटारसी और इटारसी से औबेदुल्लागंज के बीच दो अलग-अलग ठेका कंपनियों को फोरलेन बनाने का काम दे दिया गया है। ठेका कंपनियों को यह काम अगले 36 महीने में पूरा करके देना है। फोरलेन बनने के बाद बैतूल से औबेदुल्लागंज की दूरी मात्र 120 किलोमीटर बचेगी जो अभी करीब 160 किलोमीटर है। फिलहाल बैतूल से इटारसी के बीच रोड से सफर करीब २ घंटे का है। फोरलेन बनने के बाद इस दूरी को तय करने में ज्यादा से ज्यादा डेढ़ घंटे का समय लगेगा।
अभी यहां चल रहा है काम
अगस्त २०१६ में ट्रांसटाय कंपनी का ठेका निरस्त होने के बाद फोरलेन निर्माण के काम को दो अलग-अलग ठेका कंपनियों को सौंप दिया गया है। इसमें औबेदुल्लागंज से बैतूल के मध्य कुल 1321.14 करोड़ रुपए में लागत के टेंडर बुलाए गए थे। इसमें इटारसी से बैतूल के मध्य जितेंद्र सिंह एंड कंपनी द्वारा काम किया जा रहा। इटारसी से बैतूल के मध्य कुल 73.955 किलोमीटर की सड़क के लिए 633.32 करोड़ रुपए लागत आ रही है वहीं दूसरे हिस्से में औबेदुल्लागंज से इटारसी के बीच कुल 46 किलोमीटर फोरलेन बनाया जाना है। यहां लांजियन कंपनी का ठेका है। इटारसी से औबेदुल्लागंज के बीच फोरलेन निर्माण की लागत 687.82 करोड़ रुपए में आएगी।

Devendra Karande Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned