विज्ञान की परीक्षा के पहले सौ-सौ रूपए में बिक गए प्रश्र पत्र वस्तुनिष्ठ, सही जोड़ी, खाली स्थान के २० अंक के प्रश्र समान मिले

माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा सोमवार को कक्षा १० वीं के विज्ञान विषय की परीक्षा आयोजित की गई। विज्ञान के पेपर के पहले आमला ब्लॉक में रविवार को १००-१०० रूपए छात्रों द्वारा पेपर खरीदे गए।

By: ghanshyam rathor

Published: 17 Mar 2020, 12:01 AM IST


बैतूल। माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा सोमवार को कक्षा १० वीं के विज्ञान विषय की परीक्षा आयोजित की गई। विज्ञान के पेपर के पहले आमला ब्लॉक में रविवार को १००-१०० रूपए छात्रों द्वारा पेपर खरीदे गए। बताया जा रहा है कि आमला में विज्ञान विषय प्रश्र पत्र में पेपर बेचने वालों द्वारा छात्रों को पेपर की कॉपी भी उपलब्ध कराई थी। काफी हाथ से लिखी हुई थी, जिसमें वस्तुनिष्ठ, सही जोड़ी, खाली स्थान के २० अंक के प्रश्र थे। साथ ही प्रश्र पत्र में जो प्रश्र पूछे गए वे भी उक्त प्रश्र पत्र में अधिकांश प्रश्र पत्र अथवा में लिखे हुए थे। बताया जा रहा है कि बोर्ड की परीक्षा के दिन पहले छात्रों द्वारा १००-१०० रूपए में प्रश्र पत्र की फोटो काफी खरीदी। खरीदी गए पेपर से सोमवार को हुए बोर्ड की परीक्षा में वस्तुनिष्ठ प्रश्रों के साथ ही अधिकांश प्रश्र मिलते जुलते पाए गए है। वहीं मामले को लेकर शिक्षा विभाग के अधिकारियों से चर्चा की गई, तो इस प्रकार से कोई भी पेपर लिक होने से इंकार किया है। अधिकारियों का कहना है कि इस प्रकार से यदि कही से पेपर लिक हुआ है तो जांच कराई जाएगी। साथ ही थानों से प्रश्र पत्र निकालने वाले शिक्षकों से चर्चा करने की बात कही जा रही है। अधिकारियों का कहना है हो सकता है कि जो बाजार में प्रश्र पत्र की चर्चा हो वह कही और से छात्रों को वॉट्सएप से मिले हो।
हिड़ली परीक्षा केंद्र पर धराए दो नकलची
सोमवार को आयोजित बोर्ड की परीक्षा में शाउमावि हिड़ली परीक्षा केंद्र पर दो छात्रों को नकल करते हुए पकड़ा है। दोनों की नकल प्रकरण परीक्षा केंद्राध्यक्ष द्वारा बनाए गए है। सोमवार को विज्ञान विषय की परीक्षा के लिए १३० केंद्रों पर आयोजित की गई थी, जिसमें २६ हजार ७२४ छात्रों को शामिल होना था, जिसमें से ९६७ छात्र परीक्षा में अनुपस्थित रहे। परीक्षा में २५ हजार ७५७ छात्र उपस्थित रहे।
इनका कहना
इस प्रकार की कोई भी सूचना नहीं मिली है। फिर भी परीक्षा केंद्राध्यक्ष और थाने से पेपर के बारे में जानकारी प्राप्त की जाएगी। यदि कोई दोषी पाया जाता है तो कार्रवाई की जाएगी।
एलएल सुनारिया, जिला शिक्षा अधिकारी बैतूल।

ghanshyam rathor Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned