पढ़े, रसोई गैस सिलेंडर फटने से पति-पत्नी सहित तीन झुलसे

ग्राम खड़ला में शनिवार शाम एक मकान में अचानक रसोई गैस सिलेंडर फट गया। जिससे पूरे मकान में आग लग गई। पति-पत्नी सहित तीन लोग झुलस गए। दंपती को इलाज के लिए प्राइवेट अस्पताल में भर्ती किया है।

By: Devendra Karande

Published: 23 Nov 2019, 08:59 PM IST

बैतूल। ग्राम खड़ला में शनिवार शाम एक मकान में अचानक रसोई गैस सिलेंडर फट गया। जिससे पूरे मकान में आग लग गई। पति-पत्नी सहित तीन लोग झुलस गए। दंपती को इलाज के लिए प्राइवेट अस्पताल में भर्ती किया है। मौके पर बैतूल और आठनेर से दमकल पहुंच गई थी।
जानकारी के मुताबिक ग्राम खड़ला में गंगाधर बारमासे के घर गैस सिलेंडर में रेगुलेटर लगाया जा रहा था। इस दौरान अचानक सिलेंडर फट गया और आग लग गई। सिलेंडर से पूरे मकान में आग लग गई और ऊपर तक लपटें उठने लगी। घर के अंदर गंगाधर बारमासे और उनकी पत्नी विमला बारमासे सहित एक अन्य युवक आग में झुलस गया है। पति-पत्नी ने जैसे-तैसे अपनी जान बचाई। दोनों को इलाज के लिए शहर के ही एक अस्पताल में भर्ती किया है। घायलों ने बताया कि आग में घर का पूरा सामान भी जल गया। वही प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक घर से बम धमाके जैसी आवाज आई। ग्रामीण बाहर निकले और देखा तो मकान से आग की लपटें ऊपर उठ रही थी। ग्रामीणों ने आग बुझाने प्रयास किया,लेकिन सफल नहंीं हो सके। गांव में अफरा-तफरा माहौल हो गया। ग्रामीणों ने बताया कि बैतूल और आठनेर से दमकल ने पहुंचकर आग पर काबू पाया। समय से दमकल नहीं पहुंचती तो आग अन्य मकानों को भी चपेट में ले सकती थी।
हादसे को लेकर आश्चर्य
सिलेंडर में रेगुलेटर लगाए जाने के दौरान हादसा होने को लेकर सभी हैरानी भी जता रहे हैं, क्योंकि इससे पहले कभी इस तरह से हादसा नहीं हुआ है। बताया जाता है कि सिलेंडर की नोजल में रबड की वॉल होती है जिसके निकलने के बाद रेगुलेटर लगाने के दौरान तेजी से गैस लीकेज होती है। इसी दौरान घर्षण की वजह से सिलेंडर में आग लग गई होगी।

Devendra Karande Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned