कल शादियों का आखिरी शुभ मुहूर्त, चार माह नहीं गूंजेगी शहनाई

देवशयनी ग्यारस से बंद हो जाएंगे मांगलिक कार्य

By: yashwant janoriya

Published: 29 Jun 2020, 02:04 PM IST

बैतूल. देवशयनी ग्यारस के चलते एक जुलाई से मांगलिक कार्य बंद हो जांएगे। 30 जून को इस सीजन में शादियों के आखिरी शुभ मूहूर्त के चलते अधिक सं या में शादी होगी। वहीं 29 जून को भी भड़ल्या नवमी होने से भी अभिजीत शुभ मूहूर्त है। जिससे दो दिन तक बाजार में रौनक रहेगी। वहीं रविवार को भी बाजार में रौनक रही। शादियों के लिए प्रशासन की ओर से ५० लोगों की संख्या तय कर दी है। इसके बाद भी अधिक संख्या रहेगी। भीड़ के चलते कोरोना को लेकर एहतियात भी बहुत जरुरी है। एक जुलाई से देवशयनी ग्यारस के चलते मांगलिक कार्य बंद हो जाएंगे। शदियों पर भी विराम लग जाएगा। पंडित हीरेन्द्र शुक्ला ने बताया कि २९ जून को भड़ल्या नवमी अभिजीत मूहूर्त हैं। इस दिन भी मांगलिक कार्य किए जा सकते हैं। 30 जून को मांगलिक कार्य को लेकर आखिरी मूहूर्त है। इसके बाद से मांगलिक कार्य बंद हो जाएंगे। 1 जुलाई से देवश्यनी ग्यारस होने से चतुर्मास लगने के कारण मांगलिक कार्य पूरी तरह बंद हो जाएंगे। शादी-ब्याह भी पूरी तरह बंद हो जांएगे। चतुर्मास के बाद 18 नवंबर से फिर शादी के मूहूर्त शुरू होंगे,जो कि सिर्फ 13 दिसंबर तक ही होंगे। इसके बाद अगले वर्ष जनवरी, फरवरी और फिर माह मार्च में कुंभ होने से शादी विवाह फिर बंद हो जाएंगे। अप्रैल में शादियां शुरू हो सकेगी।
दो दिन रहेगी बाजार में रहेगी ग्राहकी
शादियों के लिए के 30 जून आखिरी तारीख होने से अब दो दिन तक बाजार में भीड़ रहेगी। खासतौर से शादी को लेकर कपड़े,गहने, बर्तन, इलेक्ट्रानिक्स आदि दुकानों में अच्छी ग्राहकी होगी। हालांकि दुकानदारों को कोरोना संक्रमण को रोकने एहतियात बरतने होंगे। लोगों को भी कोरोना से बचने के लिए एहतियात बरतने की जरुरत है।
शदियों में भी रहेगी भीड़
शादी का आखिरी मूहूर्त 30 जून होने से इस दिन अधिक संख्या में शादी होगी। शादियों में लोगों की भीड़ उमड़ेगी। हालांकि शादी में प्रशासन द्वारा 50 लोगों को शामिल होने की अनुमति दी है। इसके बाद भी भीड़ अधिक रहेगी। लोगों को कोरोना बचने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा।

yashwant janoriya
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned