जर्मनी के कॉर्पेट फेयर में भाग लेंगे 300 निर्यातक

फेयर में अच्छे ऑर्डर मिलने की उम्मीदें निर्यातकों ने तैयार की है कालीन की बेहतरीन डिजाइन सैम्पल

By: sarveshwari Mishra

Updated: 04 Jan 2019, 05:11 PM IST

भदोही. जर्मनी के हैनोवर में लगने वाले चार दिवसीय डोमोटेक्स इंटरनेशनल फेयर को लेकर कालीन नगरी भदोही में तैयारिया पूरी हो गई है। फेयर में जाने वाले कालीन निर्यातक कई तरह की खूबसूरत डिजाइनों वाली कालीनों के सैम्पल जर्मनी में डिस्प्ले करेंगे। इस वर्ष फेयर में 200 से अधिक कार्पेट के स्टाल लगाए जाएंगे जिसमें 60 फीसदी से अधिक स्टाल भदोही मिर्जापुर परिक्षेत्र के होंगे। यह फेयर पूरी दुनिया के साथ भारतीय कालीन उद्योग की दिशा तय करती है जिसके कारण निर्यातकों को इस फेयर से काफी उम्मीदें हैं। कालीन निर्यात सम्वर्धन परिषद के प्रशासनिक सदस्य संजय गुप्ता ने बताया कि 11 से 14 जनवरी तक जर्मनी के हनोवर में लगने वाला यह फेयर खास तौर से भारतीय कालीन उद्योग के लिए बहुत ही महत्त्वपूर्ण फेयर माना जाता है।


वर्ष 2000 के दौरान इस फेयर में सिर्फ 15 से 20 कालीन निर्यातक ही भाग लेते थे लेकिन वस्त्र मंत्रालय की कालीन निर्यात सम्वर्धन परिषद की पहल पर सरकार द्वारा मिले सहयोग से आज करीब 300 निर्यातक इस फेयर में भाग लेते हैं। और इन 18 वर्षों में निर्यात का आंकड़ा तीन हजार करोड़ से बढ़कर दस हजार करोड़ का हो गया है। फेयर में भाग लेने वाले निर्यातकों ने आयातकों के साथ सीधे तौर पर मिलकर अच्छा व्यापार किया, और अगर सरकार इसी तरह सहयोग में बृद्धि करती रही तो इस आंकड़े में लगातार वृद्धि होगी।


इंडियन कार्पेट फोरम इंडियन कार्पेट फोरम के अध्यक्ष इम्तियाज अंसारी ने बताया कि फेयर में प्रतिभाग करने के लिए कई तरह की खूबसूरत डिजाइन के सैम्पल तैयार किये है। इस मेले में कई देशो से बड़ी संख्या में निर्यातक और आयातक भाग लेते है।


जर्मनी का यह मेला नए बाजारों को खोजने में काफी मददगार होता है। एक ही छत के नीचे भदोही के निर्यातक अपने कई तरह के उत्पाद का प्रदर्शन करेंगे जिससे उम्मीद जताई जा रही है की अच्छे ऑर्डर मिलेंगे। वहीं कालीन निर्यातक असलम महबूब ने बताया कि इस फेयर में प्रतिभाग करने के बाद निर्यातकों को यह भी जानकारी मिल जाती है कि पूरे वर्ष विश्व मे किस तरह के कालीनों की डिमांड रहेगी। आगे चलकर कालीन उद्योग में उस तरह के कालीन तैयार कर उनका निर्यात किया जाता है। उन्होंने बताया कि इस फेयर से उद्योग को अच्छे व्यापार की उम्मीदें हैं।

By- Mahesh Jaiswal

sarveshwari Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned