बाहुबली विजय मिश्रा की जमानत याचिका खारिज, पत्नी और बेटे की तलाश में पुलिस

चित्रकूट जेल में बंद बाहुबली विजय मिश्रा की जमानत याचिका सेशल कोर्ट से खारिज हो गई है। विजय मिश्रा रिश्तेदार की ओर से मकान और फर्म पर जबरन कब्जा करने की एफआईआर दर्ज कराने के बाद गिरफ्तार कर जेल भेजे गए हैं। इसी मामले में पुलिस को उनकी पत्नी एमएलसी रामलली मिश्रा और बेटे विष्णु मिश्रा की तलाश है।

भदोही.

रिश्तेदार का मकान और अन्य संपत्ति कब्जा करने के मामले में चित्रकूट जेल में बंद ज्ञानपुर के बाहुबली विधायक विजय मिश्रा की जमानत याचिका खारिज हो गई। मामले की गंभीरता को देखते हुए मंगलवार को जिला सत्र न्यायाधीश अनिल कुमार की अदालत ने विधायक की जमानत याचिका को अस्वीकार करते हुए उसे निरस्त कर दिया।

 

गौरतलब हो कि विधायक के रिश्तेदार कृष्णमोहन ने गोपीगंज थाने में एफआईआर कराई थी कि विधायक, उनकी एमएलसी पत्नी रामलली मिश्रा और कारोबारी बेटे विष्णु मिश्रा उनके मकान में जबदस्ती कब्जा कर रहे हैं और फर्म पर भी कब्जा करते हुए विभिन्न चेक पर हस्ताक्षर करा लिया गया है। मामले में एफआईआर दर्ज होने के बाद विधायक को गिरफ्तार कर उन्हें चित्रकूट जेल में बन्द किया गया है, जबकि इसी मामले में आरोपी बनाए गए उनकी पत्नी और बेटा फरार हैं, जिनकी तलाश पुलिस कर रही है।


विधायक के जमानत के लिए कोर्ट में प्रार्थना पत्र दिया गया था जिसपर अदालत में सुनवाई हुई और शिकायतकर्ता की तरफ से अधिवक्ता तेज बहादुर यादव और ओम प्रकाश मौर्य ने जमानत न देने को लेकर तथ्य सामने रखे इस पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने जमानत प्रार्थना पत्र खारिज कर दिया।

By Mahesh Jaiswal

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned