परिषदीय विद्यालयों के शिक्षक भी बैठे धरने पर, ये हैं उनकी मांगें

भदोही में परिषदीय विद्यालयों के शिक्षकों ने बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय पर दिया धरना।

भदोही. यूूूूपी के भदोही जनपद के बेसिक शिक्षा अधिकारी के कार्यालय पर परिषदीय विद्यालय के शिक्षको ने पुरानी पेंशन योजना की बहाली सहित 16 सूत्रीय मांग को लेकर धरना प्रदर्शन किया और खण्ड शिक्षा अधिकारियों पर शिक्षको का शोषण किये जाने का आरोप लगाते हुए उनके ब्लॉक स्थानांतरण की मांग की। शिक्षको ने बीएसए को पत्रक सौंप कर शासन से मांगो को पूरा करने की मांग की।

 

इसे भी पढ़ें

चपरासी बोला, अधिकारी की पत्नी ने मुझे पीटा और धमकी दी, नौकरी से निकलवा दूंगी

दबंगों ने छेड़खानी कर युवती का बनाया अश्लील वीडियो, अब दे रहे हैं धमकी

 

उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ द्वारा 16 सूत्रीय मांगों को लेकर किये गए धरना प्रदर्शन के माध्यम से शिक्षको ने मांग किया कि एक अप्रैल 2005 के बाद नियुक्त शिक्षको को पुरानी पेंशन योजना से आच्छादित किया जाय। मृतक आश्रितों को सहायक अध्यापक के पद पर नियुक्त किया जाय। एक जनवरी 2016 के बाद सेवानिवृत्त हो चुके शिक्षको को पेंशन योजना हेतु शासनादेश निर्गत किया जाय। राज्य कर्मचारियों की भाँति शिक्षको को भी निशुल्क चिकित्सा सुविधा प्रदान की जाय। साथ ही जिले के समस्त खण्ड शिक्षाधिकारियों का ब्लॉक स्थानांतरण किया जाय जिससे शिक्षकोंका शोषण बन्द हो सके। याद रहे कि शिक्षामित्रों के आंदोलन से प्रदेश सरकार पहले से ही जूझ रही है।

 

इसे भी पढ़ें

छेड़खानी से तंग आकर दलित किशोरी ने की आत्महत्या, शिकायत के बाद भी पुलिस ने नहीं की थी मदद

रिटायर्ड फौजी का अपहरण कर हत्या, तमसा नदी के किनारे मिला शव

 

धरना प्रदर्शन को सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक्ष सुधीर सिंह ने कहा कि शिक्षकों की समस्याओं का समाधान जब तक नही होता है जनपद से प्रदेश तक हमारी लड़ाई जारी रहेगी। प्रदर्शन में जिला मंत्री घनश्याम यादव, कोषाध्यक्ष समरजीत यादव मनोज उपाध्याय, केके मौर्य, सूर्यकांत मौर्य, अरुण पांडेय, दिनेश मौर्य, बंशराज, सुभाष पाल सहित कई शिक्षक मौजूद रहे।

by  MAHESH jAYASWAL

 

 

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned