बारिश से जलमग्न हुई कालीन नगरी, राजकीय अस्पताल में जमा हुआ पानी

बारिश से जलमग्न हुई कालीन नगरी, राजकीय अस्पताल में जमा हुआ पानी
अस्पताल में पानी

Akhilesh Kumar Tripathi | Updated: 11 Jul 2019, 10:20:00 PM (IST) Bhadohi, Bhadohi, Uttar Pradesh, India

भदोही शहर के सभी प्रमुख मार्गो पर सिर्फ पानी ही पानी नजर आ रहा है, सड़कों से लेकर शहर के अस्पतालों में सिर्फ बारिश का ही पानी नजर आ रहा है

भदोही. कालीन नगरी भदोही में पिछले 5 दिनों से हो रही बारिश से सड़कें जलमग्न हो गई है। शहर का सबसे बड़ा एमबीएस राजकीय अस्पताल पानी से घिर गया है, पूरे अस्पताल परिसर में पानी ही पानी नजर आ रहा है ऐसे में मरीजों से लेकर डॉक्टर तक बारिश से भरे पानी से किसी तरह निकलकर अस्पताल पहुंच रहे हैं।

 

यह भी पढ़ें:

लगातार हो रही बारिश से बलिया शहर बदहाल, पुलिस चौकी में भी घुसा पानी

 

भदोही शहर के सभी प्रमुख मार्गो पर सिर्फ पानी ही पानी नजर आ रहा है, सड़कों से लेकर शहर के अस्पतालों में सिर्फ बारिश का ही पानी नजर आ रहा है। भदोही शहर का महाराजा बलवंत सिंह राजकीय अस्पताल जिले का सबसे बड़ा सरकारी अस्पताल भी है, इस अस्पताल को ही बारिश के पानी ने बीमार कर दिया है । हर साल इस अस्पताल के अंदर ऐसे ही पानी का नजारा देखने को मिलता है। मरीजों और अस्पताल के स्टॉफ का कहना है की बारिश होते ही अस्पताल का यह हाल हो गया है, अगर जल्द ही जल निकासी की व्यवस्था सही नहीं हुई तो आने वाली बारिश में अस्पताल के कमरों में तक पानी भर सकता है।

 

यह भी पढ़ें:

बारिश के बाद तालाब बना खण्ड विकास कार्यालय, स्कूल और थानों में भी जलभराव

 

भदोही शहर से सालाना करोड़ों का कालीन विदेशी बाजारों में निर्यात किया जाता है इसलिए इस शहर को लोग डॉलर नगरी तक कहते है। भदोही नगर पालिका जल निकासी के लिए बारिश के पहले करोड़ों रुपया खर्च करती है लेकिन उसके बाद भी सिर्फ पांच दिनों की बारिश से शहर पानी पानी हो गया है। जब इस बाबत नगर पालिका के अध्यक्ष से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि जल निकासी के लिए व्यवस्था की गई है, कुछ इलाको में थोड़ा सा काम अभी बाकी है उसे जल्द पूरा कर लिया जायेगा उन्होंने यह भी कहा की बारिश के बाद कुछ देर में पानी की निकासी हो जाती है, लेकिन जैसा नगर पालिका के अध्यक्ष बोल रहे है शहर को देखकर तो ऐसा कहीं से लग नहीं रहा है।

 

BY- MAHESH JAISWAL

 

यहां देखें वीडियो

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned