script... 10 to 12 hours of power cut just because of this reason | ...सिर्फ इस कारण से हो रही 10 से 12 घंटे की बिजली कटौती | Patrika News

...सिर्फ इस कारण से हो रही 10 से 12 घंटे की बिजली कटौती

गर्मी का दंश : खपत ने बढ़ाई कटौती की खाज
- अब झेलनी होगी कटौती की मार
- कोयला संकट के बीच गर्मी बन रही वजह

भरतपुर

Published: April 23, 2022 10:18:10 pm

भरतपुर . देश में कोयला संकट के बीच पड़ रही गर्मी ने बिजली कटौती की खाज लगा दी है। जिले के कई गांवों में तेज गर्मी के बीच कटौती के चलते शनिवार की दुपहरी पंखा झलते बीती। जिले को करीब 10 लाख यूनिट बिजली कम मिल रही है। अब इसकी भरपाई कटौती से की जा रही है। इसी का नतीजा है कि गांवों में अब बत्ती गुल होने लगी है।
विद्युत निगम ने भी इसको लेकर लोगों को सावचेत किया है। अप्रेल में ही गर्मी ने लोगों का पसीना निकाल दिया है। ऐसे में मई-जून माह की गर्मी लोगों को और सताएगी। गर्मी बढऩे के साथ बढ़ी बिजली की मांग ने अब कटौती की तलवार लटका दी है। विद्युत निगम के अधिकारियों का कहना है कि बिजली की मांग में अब करीब 31 प्रतिशत तक बढ़ गई है। भीषण गर्मी एवं कोविड के आर्थिक गतिविधियों में आई तेजी की वजह से बिजली की मांग तेजी से बढ़ी है। ऐसे में विभिन्न क्षेत्रों में 7 से 8 घंटे की कटौती शुरू हो गई है। प्रदेश की बात करें तो गत वर्ष अप्रेल माह में बिजली की मांग प्रतिदिन करीब 2131 लाख यूनिट थी और अधिकतम मांग 11570 मेगावाट थी, जो चालू वर्ष में बढ़कर लगभग 28 00 लाख यूनिट प्रतिदिन व अधिकतम 13700 मेगावाट पहुंच गई है।
...सिर्फ इस कारण से हो रही 10 से 12 घंटे की बिजली कटौती
...सिर्फ इस कारण से हो रही 10 से 12 घंटे की बिजली कटौती
महंगे दामों पर भी नहीं हो रही मुहैया

बिजली की बढ़ी हुई मांग को पूरा करने के लिए एनर्जी एक्सचेंज सहित अन्य स्त्रोतों से भी निगम को मंहगे दामों में बिजली नहीं मिल पा रही है। देशव्यापी कोयला संकट के चलते विद्युत उत्पादन खासा प्रभावित हुआ है। अतिरिक्त मांग के अनुसार तापीय विद्युत गृहों को पर्याप्त कोयले की आपूर्ति नहीं होने से विद्युत उत्पादन इकाईयां पूरी क्षमता के साथ बिजली का उत्पादन नहीं कर पा रही है। प्रदेश के थर्मल पावर स्टेशनों की विद्युत उत्पादन क्षमता 10110 मेगावाट है, जिनसे लगभग 6 6 00 मेगावाट विद्युत का ही प्रतिदिन उत्पादन हो रहा है।
आवश्यक सेवाओं की कर रहा पूर्ति

विद्युत निगम बढ़ी गर्मी के बीच आई बिजली की किल्लत को लेकर सात से आठ घंटे कटौती कर रहा है। ऐसी स्थिति में आवश्यक सेवा अस्पताल, अॅाक्सीजन सेन्टर, पेयजल आपूर्ति व मिलिट्री इन्स्टालेशन आदि को सुचारू बिजली की आपूर्ति के लिए ग्रामीण क्षेत्रों के साथ शहरी क्षेत्रों में भी रोस्टर के अनुसार बिजली कटौती शुरू कर दी गई है। गांवों में अभी से सात से आठ घंटे की कटौती शुरू कर दी है, जबकि आने वाले मई और जून माह में यह और बढ़ सकती है।
अब 5 से 10 लाख यूनिट की कमी

जिले की बात करें तो वर्तमान में करीब 5 से 10 लाख यूनिट बिजली कम मिल रही है। ऐसे में कटौती की संभावना काफी बढ़ गई है। अमूमन जिले की एक दिन की खपत करीब 55 लाख यूनिट है। इसमें से जिले को करीब 40 से 50 यूनिट बिजली मिल रही है। ऐसे में गांवों में कटौती अभी भी बनी हुई है। खास बात यह है कि निगम 12 रुपए यूनिट की दर से बिजली खरीदकर मुहैया करा रहा है। विद्युत निगम के अधिकारियों का कहना है कि बिजली की उपलब्धता हर 15 मिनट पर बदलती रहती है। अब अचानक गर्मी के बढऩे से बिजली की डिमांड काफी बढ़ गई है। ऐसे में अब कटौती होना तय है।
फैक्ट फाइल

55 यूनिट खपत है जिले की
40-50 यूनिट बिजली ही मिल रही है
5-10 लाख यूनिट बिजली कम मिल रही है
12 रुपए की दर से बिजली खरीद रहा है निगम
7-8 घंटे की कटौती हुई शुरू
31 प्रतिशत बढ़ गई है बिजली की खपत

इनका कहना है

अचानक गर्मी बढ़ी है। निगम महंगी बिजली खरीदकर मुहैया करा रहा है। मांग के अनुसार आपूर्ति नहीं होने के कारण जिले में कटौती संभावित है।

- संजय अग्रवाल, अधीक्षण अभियंता विद्युत निगम भरतपुर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

कोर्ट में ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पेश होने में संशय, दूसरी ओर सुप्रीम कोर्ट में एक बजे सुनवाई, 11 बजे एडवोकेट कमिश्नर पहुंचेंगे जिला कोर्टहरियाणा: हरिद्वार में अस्थियां विसर्जित कर जयपुर लौट रहे 17 लोग हादसे के शिकार, पांच की मौत, 10 से ज्यादा घायलConstable Paper Leak: राजस्थान कांस्टेबल परीक्षा रद्द, आठ गिरफ्तार, 16 मई के पेपर पर भी लीक का सायाWeather Update: उत्तर भारत में भीषण गर्मी, इन राज्यों में आंधी और बारिश की अलर्टLucknow: क्या बदलने वाला है प्रदेश की राजधानी का नाम? CM योगी के ट्वीट से मिले संकेतजमैका के दौरे पर गए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने क्यों की सलवार-कुर्ता की चर्चा, जानिए इस टूर में और क्या-क्या हुआबॉर्डर पर चीन की नई चाल, अरुणाचल सीमा पर तेजी से बुनियादी ढांचा बढ़ा रहा चीनगेहूं के निर्यात पर बैन पर भारत के समर्थन में आया चीन, G7 देशों को दिया करारा जवाब
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.