अब तक 48 की मौत, बयाना में आठ समेत 25 कोरोना संक्रमित और निकले

-उत्तरप्रदेश के आगरा को भी भरतपुर ने पीछे छोड़ा, अब तक 2181 केस आ चुके सामने

By: Meghshyam Parashar

Published: 20 Jul 2020, 07:51 PM IST

भरतपुर. जिले में कोरोना संक्रमितों की तुलना सीमावर्ती राज्य उत्तरप्रदेश के आगरा से करें तो भरतपुर ने उसे भी पीछे छोड़ दिया है। अब तक 48 कोरोना संक्रमितों की मौत हो चुकी है। सोमवार देर शाम 25 कोरोना संक्रमित और निकले हैं। अब जिले में 2181 केस हो चुके हैं। सीएमएचओ डॉ. कप्तान सिंह चौधरी ने बताया कि 1920 कोरोना मरीज रिकवर हो चुके हैं। एक्टिव केस अब 214 हैं। कोविड केयर सेंटर में 64 व आरबीएम अस्पताल में 38 कोरोना संक्रमित भर्ती हैं। कामां में एक, भुसावर में दो, सेवर में तीन, बयाना में आठ, कुम्हेर में चार, शिवनगर में एक, कृष्णा नगर में एक, लक्ष्मण मंदिर एरिया में एक, पुष्पवाटिका कॉलोनी में एक, रणजीत नगर में एक, छापर मोहल्ला में एक, नदिया मोहल्ला में एक कोरोना संक्रमित निकला है। उल्लेखनीय है कि जिले में पिछले एक सप्ताह के दौरान कामां व बयाना में भी मरीजों की संख्या बढ़ रही है। इनमें सबसे ज्यादा बैंककर्मी, सरकारी अधिकारी-कर्मचारी कोरोना संक्रमित निकल रहे हैं। हालांकि रिकवर होने वाले मरीजों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है।

रिपोर्ट चार से पांच में आ रही, एनडीए के चयनितों से मांगी 24 घंटे की रिपोर्ट

जिले में एनडीए में चयनित युवाओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। क्योंकि एनडीए में चयनितों को साक्षात्कार के लिए 23 जुलाई को बैंगलोर बुलाया गया है। उनसे 24 घंटे के दौरान की कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट भी मांगी गई है। अब सवाल यह है कि जब सरकारी लैब की रिपोर्ट चार से पांच दिन में आ रही है तो युवाओं को जांच कहां करानी होगी। चूंकि हाल में ही एक निजी लैब को भी अधिकृत किया गया था, लेकिन बाद में आदेश भी निरस्त हो गया। इस मामले को लेकर युवाओं ने जिला कलक्टर व सीएमएचओ से भी शिकायत की है। उनका कहना है कि एनडीए ने 23 जुलाई के बाद कोई अन्य तारीख भी नहीं दी है।

Meghshyam Parashar Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned