जीर्णोद्धार के बाद संग्रहालय में आया निखार

भरतपुर. जीर्णोद्धार के बाद राजकीय संग्रहालय की रौनक लौटने से यहां पर्यटकों की संख्या में इजाफा और राजस्व में बढ़ोतरी हुई है।

By: pramod verma

Updated: 06 Jan 2020, 09:17 PM IST

भरतपुर. जीर्णोद्धार के बाद राजकीय संग्रहालय की रौनक लौटने से यहां पर्यटकों की संख्या में इजाफा और राजस्व में बढ़ोतरी हुई है। नए वर्ष में एक जनवरी को 23 सौ 56 पर्यटकों ने दोपहर बारह से रात आठ बजे तक संग्रहालय में पुरावस्तुओं को देखा है, जिससे पुरातत्व विभाग को 42 हजार 940 रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ।

ध्यान रहे कि संग्रहालय में जीर्णोद्धार के अभाव में ऐतिहासिक धरोहरे बेकार हो रही थीं। इसे लेकर वर्ष 2016 के सितम्बर माह में संग्रहालय में करीब 3.88 करोड़ रुपए की लागत से जीर्णोद्धार एवं सरक्षण कार्य कराया गया। इसके बाद पर्यटकों की संख्या में इजाफा हुआ है। यहां देशी-विदेशी पर्यटक लोहागढ़ के इतिहास की जानकारी लेने आ रहे हैं। क्योंकि अब संग्रहालय का नया रूप नजर आ रहा है।


क्योंकि. संग्रहालय में अब लोहागढ़ के इतिहास की गवाही देने वाली पुरावस्तुओं में निखार आया। जितने भी पर्यटक यहां आते है उन्हें लोहागढ़ का इतिहास जानने की उत्सुकता होती है। विशेषकर महाराजा सूरजमल की ख्याति और शौर्य के बारे में जानकारी लेने आते हैं।


वहीं वर्ष 2019 में जनवरी से दिसम्बर तक पर्यटकों की संख्या पर नजर डालें तो 8895 भारतीय दर्शक, 3610 भारतीय विद्यार्थी, 46 विदेशी पर्यटक, 11 विदेशी विद्यार्थी और 11 स्थानीय विद्यार्थियों ने संग्रहालय में पुरावस्तुओं की जानकारी ली। विभाग को 02 लाख 18 हजार 150 रुपए का राजस्व मिला।


पर्यटकों ने कला उद्योग सामग्री में पीतल, मिट्टी के बर्तन, पेंटिंग, आम्र्स गैलरी में 18वीं व 19वीं शताब्दी में बने हथियार, हथगोला, बंदूक, दरबार हॉल, 56 खंभा, हमाम घर, बारहदरी, भारतीय संस्कृति से संबंधित देवी-देवताओं की मूर्तियां, पुराने लोहे क बर्तन, कटार-तलवार, झूमर आदि को निहारकर सराहना की।

संग्रहालय अध्यक्ष हेमेंद्र कुमार अवस्थी ने बताया कि संग्रहालय के जीर्णोद्धार एवं संरक्षण कार्य के बाद यहां पर्यटकों की संख्या में इजाफा हुआ है। नए वर्ष में एक जनवरी को ही काफी संख्या में पर्यटकों ने संग्रहालय में लोहागढ़ के इतिहास की जानकारी ली।

pramod verma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned