महिला की मौत के बाद लावारिस बच्चों को भिजवाया गृह, दंपती में रात में हुआ था झगड़ा

यहां सारस चौराहे के पास सड़क किनारे झोंपड़ी डालकर रहा आदिवासी परिवार में महिला की सूचना मिलने पर बाल कल्याण समिति अध्यक्ष गंगाराम पाराशर व अन्य सदस्यों ने मौके पर पहुंच जायजा लिया।

By: rohit sharma

Published: 12 Sep 2020, 11:03 PM IST

भरतपुर. यहां सारस चौराहे के पास सड़क किनारे झोंपड़ी डालकर रहा आदिवासी परिवार में महिला की सूचना मिलने पर बाल कल्याण समिति अध्यक्ष गंगाराम पाराशर व अन्य सदस्यों ने मौके पर पहुंच जायजा लिया। मालूम हुआ कि महिला की मौत के बाद उसके बच्चे लावारिस हैं। मौके पर मृ़तका के मिले भाई ने बताया कि मृतका का पति शराब पीता है और अभी नहीं है। जिस पर समिति अध्यक्ष ने मामले की गंभीरता से देखते हुए प्रसंज्ञान लिया। समिति सदस्यों ने बच्चों से जानकारी ली तो बताया कि मम्मी-पप्पा में रात में झगड़ा हुआ था। महिला की मौत के बाद तीन बच्चों की देखभाल के लिए कोई नहीं था। इसमें एक 6 साल, 3 और तीसरा अभी दस दिन का नवजात था। जिस पर समिति ने बच्चों को बालक-बालिका गृह में आवासरत कराया। बच्चों के स्वास्थ्य के लिए होम संचालक को आवश्यक निर्देश दिए। समिति ने बाद में गुम हुए बालक रिहान शर्मा के परिजनों से वार्ता की और मामले की जानकारी ली। जिस पर समिति ने जांच अधिकारी मामले में आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए। इस मौके पर सदस्य राजाराम, नरेन्द्र सिंह डागुर, मदनमोहन शर्मा, अनुराधा शर्मा भी मौजूद थी।


भूमि पर विवाद की शिकायत पर सांसद, चेयरमैन पहुंचे

बयाना कस्बे के मदान इलाके में प्रोपर्टी डीलर की ओर से जमीन पर सफाई कार्य करने के दौरान कोली समाज के लोगों की ओर से प्रशासन व सांसद एवं चेयरमैन ओमप्रकाश कोली को अवैध कब्जा करने की शिकायत की। मौके पर तहसीलदार गिर्राज बंसल, पुलिसकर्मी व सांसद भी पहुंच गए। दोनों पक्षों को भूमि के दस्तावेज लेकर सोमवार को कार्यालय में बुलाया और फिलहाल दोनों पक्षों को किसी भी प्रकार का कार्य नहीं करने के लिए पाबंद कर मामला शांत कराया है। जानकारी के अनुसार कोली समाज के लोगों का कहना था कि जिस भूमि पर प्रोपर्टी डीलर जेसीब चलाकर सफाई कार्य कर रहे है। वह उनके समाज की भूमि है। वहीं प्रोपर्टी डीलर पक्ष का कहना था कि उक्त भूमि को उन्होंने खरीदा है जिसकी उनके पास हाईकोर्ट की डिग्री है। दोनों पक्षों के दस्तावेजों को सोमवार को एसडीएम कार्यालय में दिखाने को कहकर तथा सीमाज्ञान कराने की बात कहते हुए तहसीलदार ने मामला शांत कराया।

rohit sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned