कुख्यात बदमाशों को पकड़ती है अलवर पुलिस और निर्दोषों को भरतपुर की पुलिस

सीकरी में हुई महापंचायत में बोले नेता, सोशल मीडिया पर विधायक की छवि खराब करने के मामले में भाजपा कार्यकर्ता की गिरफ्तारी का मामला

सीकरी. सोशल मीडिया पर विधायक के छवि खराब करने के मामले में एक कार्यकर्ता की गिरफ्तारी के बाद मामला अब गरमा गया है। रविवार को कस्बे की अग्रवाल धर्मशाला में डांग विकास बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष जवाहर सिंह बेढम के मुख्यातिथ्य में एक सर्वजातीय समाज की महापंचायत का आयोजन किया गया। महापंचायत की अध्यक्षता सरदार ढेरू सिंह बूड़ली ने की। महापंचायत में बोलते हुए किसान व भाजपा नेता नेमसिंह फौजदार ने कहा कि सीकरी व नगर थाना पुलिस कुख्यात व इनामी बदमाशों को पकडऩे में नाकाम रही और उन बदमाशों को अन्य जिले की पुलिस पकड़ कर ले गई और एक निर्दोष कार्यकर्ता के घर एक व्यक्ति विशेष के कहने पर रात 12 बजे दबिश देकर कार्यकर्ता को अर्धनग्न अवस्था में पकड़ लिया। इससे पुलिस का नाम कलंकित किया है । जबकि मेवात क्षेत्र में ओएलएक्स व टटलूबाज व चोरों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की। वहीं डांग विकास बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष जवाहर सिंह बेढम ने पुलिस कार्यशैली पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि पुलिस ने एक कार्यकर्ता के साथ अमानवीय व्यवहार करते हुए उसे रात 12 बजे गिरफ्तार किया। पुलिस ने कार्यकर्ता के घर पर महिलाओं से भी अभद्र व्यवहार किया। एक राजनेता के इतने दबाव में पुलिस ने कानून की भी परवाह नहीं की। एक कुख्यात अपराधी की तरह एक सामान्य कार्यकर्ता के घर पर नगर व सीकरी थाना पुलिस ने दबिश दी और उसे रात्रि में सोते हुए अर्धनग्न अवस्था में गिरफ्तार किया। झंझार के पूर्व सरपंच बनयसिंह सैनी ने कहा कि विधायक वाजिब अली क्षेत्र का विधायक है संवैधानिक पद पर है। अब किसी जाति का विधायक नहीं है । विधायक ने अपने निजी सचिव से छोटी सी बात को लेकर लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी और एक जने को रात में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। महापंचायत में 11 सदस्यीय एक कमेटी का गठन किया गया। जो सोमवार को भरतपुर के आईजी को पुलिसकर्मियों के खिलाफ ज्ञापन देंगे। वक्ताओं ने कहा कि कार्यकर्ता से अमानवीय व्यवहार करने वाले सीकरी तथा नगर थाना के पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

ये है मामला

विचार क्रांति नामक एक व्हाट्सअप ग्रुप पर गांव बूड़ली निवासी मानसिंह सैनी ने स्थानीय विधायक की फोटो वायरल की तथा उसमें लिखा कि गुरू नानकदेवजी के 550 प्रकाशोत्सव कार्यक्रम में विधायक ने न तो सिर पर कुछ पहना हुआ है और पैरों में जूते पहन रखे है। जबकि उनके साथ खड़े सभी लोग सिर पर पहने हुए है और पैर भी नंगे हैं। इस पर डूंगरसिंह ने कमेंट किया और इसी बात को लेकर विधायक के निजी सचिव किशनलाल ने ग्रुप एडमिन हरिओम नरुका समेत तीन लोगों के खिलाफ छवि खराब करने का मामला दर्ज करा दिया। पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए रात में पोस्ट करने वाले को गिरफ्तार कर लिया। महापंचायत में पूर्व प्रधान हुकम सिंह यादव, जयप्रकाश शर्मा, विष्णु शर्मा, सुनील कुमार आदि उपस्थित थे।

Meghshyam Parashar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned