scriptBharatpur deepesh kumari gets 93rd rank in upsc result 2021 | UPSC Result 2021: माता-पिता के संघर्ष से लिखी बेटी ने सफलता की इबारत, पढ़ें सफलता की कहानी | Patrika News

UPSC Result 2021: माता-पिता के संघर्ष से लिखी बेटी ने सफलता की इबारत, पढ़ें सफलता की कहानी

यूपीएससी की परीक्षा में 93 वीं रैंक हासिल करने वाली दीपेश कुमारी ने बचपन से ही अपने माता-पिता को संघर्ष करते देखा। आर्थिक तंगी के हालात में माता पिता दिन रात मेहनत करके अपने 5 बच्चों को पालते पोषते रहे।

भरतपुर

Published: June 01, 2022 08:53:31 pm

यूपीएससी की परीक्षा में 93 वीं रैंक हासिल करने वाली दीपेश कुमारी ने बचपन से ही अपने माता-पिता को संघर्ष करते देखा। आर्थिक तंगी के हालात में माता पिता दिन रात मेहनत करके अपने 5 बच्चों को पालते पोषते रहे। माता पिता के संघर्ष और तपस्या का ही परिणाम है कि आज दीपेश कुमारी ने दूसरे ही प्रयास में यूपीएससी में सफलता हासिल कर ली है। अब दीपेश कुमारी समाज के ऐसे जरूरतमंद लोगों के लिए मदद का हाथ बढ़ाएंगे जो तमाम सुविधाओं से वंचित हैं।
Bharatpur deepesh kumari gets 93rd rank in upsc result 2021
deepesh kumari
बुधवार को दीपेश कुमारी यूपीएससी में सफल होने के बाद भरतपुर शहर के अटलबंध क्षेत्र स्थित अपने घर पहुंची। माता पिता, भाई बहन ही नहीं बल्कि गली मोहल्ले के लोगों ने दीपेश के स्वागत में पलक पांवड़े बिछा दिए। अपने मोहल्ले कंकड़ वाली कुईया स्थित घर पहुंची तो मोहल्लेवासियों ने माला पहनाकर स्वागत किया। मां ऊषा की आंखों से तो आंसू ही नहीं रुक रहे थे। नाम रोशन करने वाली अपनी दुलारी को देर तक गले लगाकर रोती रही और लाड़ लड़ाती रही।
जिंदगी में परेशानियां तो बहुत आती हैं..
दीपेश कुमार ने अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता, भाई बहन, परिजन और पढ़ाई में मदद करने वाले शिक्षकों को दिया। दीपेश ने बताया कि उसके माता-पिता हमेशा कहते हैं के जीवन में परेशानियां तो बहुत आती है। लेकिन जो व्यक्ति परेशानियों को हटाकर भी ऊंचा सोच सके वही लीडर है।
यह भी पढ़ें

पिता ठेल पर बेचते हैं सांक, बिटिया ने अफसर बन सपने किए साकार

जरूरतमंद की करेंगी मदद
दीपेश ने बताया कि भविष्य में कोई भी जरूरतमंद जिसे कोई सुविधा नहीं मिल पा रही है और वो मेरी क्षमता में है तो उसकी मदद करने की कोशिश करूंगी। सर्विस में मुझे जो भी जिम्मेदारी मिलेंगी मैं उन्हें पूरी इमानदारी से निभाऊंगी।
तंगी बाधा नहीं मोटिवेशन
दीपेश कुमार ने बताया कि आर्थिक तंगी की वजह से परेशानियां आ सकती हैं लेकिन वो रुकावट नहीं बन सकती। बल्कि आर्थिक परेशानियां आपको मोटिवेशन देती हैं कि आप ज्यादा पढ़े ज्यादा मेहनत करें।
उन्होंने कि यूपीएससी में हिंदी व इंग्लिश मीडियम की पढ़ाई का कोई ज्यादा फर्क नहीं पड़ रहा। यूपीएससी में कई हिंदी मीडियम के अभ्यर्थियों का भी चयन हुआ है। दीपेश कुमार ने बताया कि उन्होंने खुद 12वीं तक की पढ़ाई हिंदी मीडियम स्कूल में की थी।
जाना भरतपुर का इतिहास
दीपेश कुमार ने बताया कि यूपीएससी इंटरव्यू में उनसे भरतपुर के इतिहास, लोहागढ़, महाराजा सूरजमल और यहां के एग्रीकल्चर बैकग्राउंड से संबंधित सवाल किए। गौरतलब है कि दीपेश के पिता गोविंद बीते 25 साल से ठेला पर सांक बेचकर परिवार पाल रहे हैं। परिवार में दीपेश की एक और बहन व तीन भाई हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मीन राशि में वक्री होंगे गुरु, इन राशियों पर धन वर्षा होने के रहेंगे आसारइन राशियों के लोग काफी जल्दी बनते हैं धनवान, मां लक्ष्मी रहती हैं इन पर मेहरबानभाग्यवान होती हैं इन नाम की लड़कियां, मां लक्ष्मी रहती हैं इन पर मेहरबानऊंची किस्मत वाली होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, करियर में खूब पाती हैं सफलताधन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीपनीर, चिकन और मटन से भी महंगी बिक रही प्रोटीन से भरपूर ये सब्जी, बढ़ाती है इम्यूनिटीweather update news..मौसम की भविष्यवाणी सटीक, कई जिलों में तूफानी हवा के साथ झमाझमस्कूल में 15 साल के लड़के से बनाए अननेचुरल संबंध, वीडियो भी बनाया

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: जेपी नड्डा के आवास पर पहुंचे देवेंद्र फडणवीस, इस मुद्दे पर हो सकती है चर्चाMaharashtra: ईडी ने शिवसेना नेता संजय राउत को फिर भेजा समन, जमीन घोटाले के मामले में 1 जुलाई को पेश होने के लिए कहाPunjab: सीएम भगवंत मान का ऐलान, अग्निपथ के खिलाफ विधानसभा में लाएंगे प्रस्ताव, होगा किसान आंदोलन जैसा विरोध!Jammu Kashmir: कुपवाड़ा में LoC के पास भारतीय जवानों ने दो आतंकियों को किया ढेर, भारी मात्रा में गोला-बारूद जब्तहाईकोर्ट ने ब्यूरोक्रैसी को दिखाया आईना, कहा- नहीं आता जांच करना, सरकार को भी कठघरे में किया खड़ाMumbai Building Collapse: कुर्ला कॉम्प्लेक्स हादसे के बाद एक्शन में BMC, इलाके के 3 जर्जर इमारतों को गिराने का आदेशजानिए क्यों ' मुंबई के फैंटम' के नाम से मशहूर थे अरबपति कारोबारी पालोनजी मिस्रीIMD Rain Alert: एक हफ्ते तक बिहार, झारखंड, ओडिशा, पश्चिम बंगाल में भारी बारिश का पूर्वानुमान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.