नगरपालिका चुनाव: मंडल अध्यक्षों के माध्यम से आवेदन लेगी भाजपा, कांग्रेस का इंतजार

-जिले की आठ नगरपालिकाओं में होने हैं चुनाव

By: Meghshyam Parashar

Published: 17 Nov 2020, 04:23 PM IST

भरतपुर. जिले की आठ नगरपालिकाओं के 255 वार्डों में होने वाले चुनाव को लेकर कवायद तेज हो गई है। जहां आचार संहिता लागू होने के बाद प्रशासनिक स्तर पर सक्रियता बरती जा रही है तो पार्टियों ने भी प्रत्याशी चयन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। हालांकि अभी कांग्रेस प्रत्याशी चयन की प्रक्रिया को लेकर कुछ भी तय नहीं कर सकी है। इसका एक कारण यह भी माना जा रहा है कि अभी तक जिले के सभी नगरपालिकाओं में मंडल व जिलाध्यक्ष का चयन अभी तक नहीं हो सका है। इसलिए ज्यादातर निवर्तमान पदाधिकारी भी इस प्रक्रिया के बारे में कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं। जबकि यह भी सच है कि इस बार आठों नगरपालिकाओं का चुनाव जिले के सातों विधायकों के लिए चुनौती से कम नहीं होगा। नदबई में 35, भुसावर में 25, कुम्हेर में 25, बयाना में 35, नगर में 35, वैर में 25, डीग में 40, कामां में 35 वार्ड हैं। उच्चैन व सीकरी के नव घोषित नगरपालिका होने के कारण वहां अभी तक वार्डों का गठन नहीं हो पाया है। इन सभी नगरपालिकाओं में चुनाव की घोषणा के साथ ही आदर्श आचार संहिता भी लागू हो गई है। पिछले चुनाव में इन नगरपालिकाओं में 190 वार्ड थे, जो कि अब बढ़कर 255 हो गए हैं।
भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ. शैलेश सिंह ने कहा कि जो भी उम्मीदवार भाजपा से टिकट लेने के इच्छुक है, वो सम्बन्धित मण्डल अध्यक्ष को अपना प्रार्थना पत्र प्रस्तावित फार्मेट में भरकर दे सकते है। डॉ. सिंह ने कहा कि टिकट वितरण में ईमानदार, निष्ठावान एवं अनुभवी कार्यकर्ता को प्राथमिकता दी जाएगी। डॉ. सिंह ने बताया कि डीग नगर पालिका और कुम्हेर नगर पालिका की चुनाव तैयारियों को लेकर बैठक हो चुकी है इसमें 11 सदस्यीय कमेटी का गठन दोनो नगर पालिकाओं में किया गया है। कमेटी के सदस्य तीन दिन में सभी वार्डो का आकंलन कर वार्डवार तीन नामों का पैनल बनाकर जिलाध्यक्ष को सौंप देंगे। उसके पश्चात प्रभारी, सह प्रभारी एवं संयोजक, सह संयोजक मिलकर उम्मीदवार का नाम तय करेंगे। इससे ज्यादा से ज्यादा सीटों पर जीत दर्ज की जा सके।

कांग्रेस में हलचल तेज लेकिन बोलने कतरा रहे

कुछ पदाधिकारियों से बात करने पर सामने आया कि ज्यादातर नगरपालिका क्षेत्रों में कांग्रेस की टिकट को लेकर वहां के विधायकों से रायशुमारी हो रही है। हालांकि अभी प्रत्याशी चयन की प्रक्रिया को लेकर कुछ भी तय नहीं है। प्रत्याशी चयन में वहां विधायक ही मुख्य भूमिका निभाएंगे। कुछ स्थानों पर पिछले कुछ माह पूर्व हुए सियासी घमासान के कारण गुटबाजी भी जगजाहिर है। ऐसे में इन स्थानों पर प्रत्याशियों का चयन भी पार्टी के लिए मुश्किल पैदा कर सकता है।

इस तरह रहेगी चुनाव की प्रक्रिया

सदस्य पद के लिए 23 नवंबर को लोक सूचना जारी की जाएगी। 27 नवंबर को सुबह 10.30 बजे से दोपहर तीन बजे तक नामांकन पत्रों को प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि, एक दिसंबर को सुबह साढ़े 10 बजे से नामांकन पत्रों की संवीक्षा, तीन दिसंबर को दोपहर तीन बजे तक अभ्यर्थिता वापस लेने, चार दिसंबर को चुनाव चिन्हों का आवंटन, 11 दिसंबर को सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक मतदान, 13 दिसंबर को सुबह नौ बजे से मतगणना। अध्यक्ष पद के लिए 14 दिसंबर को लोक सूचना जारी की जाएगी। 15 दिसंबर को सुबह साढ़े 10 बजे से दोपहर तीन बजे तक नामांकन पत्रों को प्रस्तुत करने, 16 दिसंबर को सुबह साढ़े 10 बजे से नामांकन पत्रों की संवीक्षा, 17 दिसंबर को दोपहर तीन बजे तक अभ्यर्थिता वापस लेने, इसी दिन चुनाव चिन्हों का आवंटन, 20 दिसंबर को सुबह 10 बजे से दोपहर दो बजे तक मतदान की तिथि, इसी दिन मतदान के बाद मतगणना होगी। उपाध्यक्ष पद के लिए 21 दिसंबर को निर्वाचन कराया जाएगा।

Meghshyam Parashar Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned