सियासत...कांग्रेसियों ने शहर व सेवर ब्लॉक की बैठक कर सरकार व पार्टी पर जताया भरोसा

-कार्यकारिणी भंग होने के बाद भरतपुर शहर व सेवर ब्लॉक कांग्रेस कमेटी ने की संयुक्त बैठक

By: Meghshyam Parashar

Published: 20 Jul 2020, 02:03 AM IST

भरतपुर. कांग्रेस हाइकमान की ओर से सभी कार्यकारिणी भंग करने के बाद रविवार को भरतपुर शहर एवं सेवर ब्लॉक कांग्रेस ने संयुक्त बैठक कर पार्टी व राज्य सरकार पर भरोसा जताया। साथ ही बैठक में मौजूद कांग्रेसियों ने पार्टी का साथ निभाने का भी संकल्प लिया। शहर एवं सेवर ब्लॉक कांगे्रस कमेटी की संयुक्त बैठक एक फार्म हाउस में हुुई। इसमें नवनियुक्त कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष गोविन्दसिंह डोटासरा को बधाई देते हुए पार्टी के प्रति पूर्ण निष्ठा का संकल्प व्यक्त किया। बैठक में भरतपुर के विकास के लिए चार प्रस्ताव पारित कर मुख्यमंत्री एवं प्रदेषाध्यक्ष को भिजवाने का निर्णय लिया गया।
बैठक में कांग्रेस के वरिष्ठ सदस्य एवं पूर्व प्रधान निहाल सिंह ने कहा कि भरतपुर के पार्टी के पूरे कार्यकर्ता उनके साथ है। निश्चय ही उनके अनुभवों एवं निष्ठा का पार्टी को लाभ मिलेगा और पार्टी अधिक मजबूत होगी। बैठक में पूर्व शहर अध्यक्ष रमेश पाठक ने कहा कि सभी कार्यकर्ता एकजुट होकर पूर्ण मनोयोग से कार्य कर पार्टी को मजबूत करेंगे। बैठक की अध्यक्षता करते हुए पार्टी के वरिष्ठ सदस्य श्रीभगवान कटारा ने भी विचार रखे। सेवर ब्लॉक कमेटी के पूर्व अध्यक्ष सतीश सोगरवाल ने कहा कि जिले के सभी कार्यकर्ता पार्टी के साथ हैं। बैठक में एनएसयूआई के पूर्व अध्यक्ष पुष्पेन्द्र सिंह एवं संजय शुक्ला ने विचार व्यक्त किए। बैठक में इस्टर्न कैनाल परियोजना को केन्द्र से स्वीकृत कराने, राष्ट्रीय राजधानी परियोजना क्षेत्र में भरतपुर के प्रदूषण रहित उद्योग लगाने, भरतपुर शहर से गंदे पानी की निकासी के लिए विशेष परियोजना स्वीकृत करने, भरतपुर संभाग मुख्यालय पर आईआईटी, आईआईएम, कृषि विश्वविद्यालय एवं पशुपालन महाविद्यालय खोलने के प्रस्ताव पारित किए गए। जिन्हें मुख्यमंत्री एवं कांगे्रस प्रदेशाध्यक्ष को भिजवाने का निर्णय लिया गया। मदनमोहन शर्मा ने आभार व्यक्त किया। बैठक में श्यामसिंह गुर्जर, दाऊदयाल जोशी, देवेन्द्र सिंह गुर्जर, यूथ के पूर्व जिलाध्यक्ष सौरभ सोलंकी, पूर्व अध्यक्ष विनीतपाल सिंह, सरपंच मनोज शर्मा, योगेन्द्र डागुर, बबलू खैमरा, गिरधारी लाल सरपंच, हेमराज सिंह, राहुल चौधरी, नरेश लवानियां, अशोक लवानियां, जीवनलाल शर्मा, विवेक शर्मा, सुरेन्द्र कुमार पार्षद, शैलेष पार्षद, ऋषिराज सिंह, राजेश मित्तल एडवोकेट, मनीष भूरा, लोकेश सोगरवाल, शुभम चौधरी, प्रभाव चौधरी, सुनील यादव, लक्ष्मणसिंह गुर्जर, रॉकी जाटौली, करतार सिंह, अमरसिंह सैनी, राहुल फौजदार, बृजेन्द्र चीमा पार्षद, रघुवीर ठाकुर पार्षद, चन्द्रभान, राहुल फौजदार, दीपेन्द्र सिंह, सुन्दर सैनी, पुष्पराज सोलंकी, सचिन चौधरी, चोखेलाल फौजदार डीग आदि उपस्थित थे।

जिलाध्यक्ष पद की जोड़-तोड़ में जुटा एक गुट

अगर पिछले कुछ दिन से चल रहे सियासी घटनाक्रम पर नजर डालें तो कहीं न कहीं कांग्रेसियों में भी दो गुट बनते नजर आ रहे हैं। एक गुट जहां पिछले कुछ दिन से भूमिगत नजर आ रहा है तो दूसरा गुट जिलाध्यक्ष पद की जोड़-तोड़ में जुटा हुआ है। जिला कांग्रेस की ओर से भी अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है। इस बैठक में भी काफी वरिष्ठ कांग्रेसी दिखाई नहीं दिए। सूत्रों की मानें तो यह बैठक पार्टी को मजबूत दिखाने की कोशिश के तहत शक्ति प्रदर्शन के लिए भी मानी जा सकती है। हालांकि माना यह भी जा रहा है कि कार्यकारिणी भंग होने के बाद से ही जिलाध्यक्ष पद की दौड़ भी शुरू हो चुकी है। ऐसे में जिनके नाम पर चर्चा चल रही है, उनमें से बड़े नेताओं के कुछ खास कार्यकर्ता भी जोड़-तोड़ लगे हुए हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की मानें तो जिलाध्यक्ष पद को लेकर अभी कुछ भी तय नहीं हो सका है। प्रदेशाध्यक्ष के सामने एक धड़ा कांग्रेस के ही कार्यकर्ताओं की राय पर जिलाध्यक्ष के चयन की मांग तक कर चुका है।

Meghshyam Parashar Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned