गर्भवती पत्नी से फोन कर कहा एक जून को आऊंगा, घर आया जवान का शव

-डेढ़ साल पहले हुई थी शादी, हार्ट अटैक से हुई बरेली में मौत
-डीग के गांव बहज का था निवासी

By: Meghshyam Parashar

Published: 29 May 2020, 02:16 PM IST

भरतपुर/डीग. गांव बहज निवासी जाट रेजीमेंट सेंटर बरेली में क्लर्क के पद पर नियुक्त प्रदीप सिंह ने 26 मई की रात आठ बजे पत्नी को फोन कहा था कि चिंता मत करना, एक जून को घर आ जाऊंगा। इस समय सभी का ध्यान रखना। कोरोना के साथ तुम्हें खुद का भी ध्यान रखना है। इसके करीब चार घंटे बाद ही उसने छाती में दर्द की शिकायत पर दम तोड़ दिया। गांव बहज में देर रात आए सैनिक प्रदीप सिंह के पार्थिव शरीर की गुरुवार सुबह गांव के मुक्तिधाम में अंत्येष्टि की गई। उनकी अंतिम यात्रा में गांववासियों सहित अन्य गांव के लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। सैनिक प्रदीप की बरेली में हृदय गति रुकने से 26 मई को मौत हो गई थी। वह जाट रेजीमेंट सेंटर बरेली में क्लर्क के पद पर तैनात था।
प्रदीप दो वर्ष पहले सेना में भर्ती हुआ था। सैनिक की शादी डेढ़ वर्ष पहले 19 नवंबर 2018 को हुई थी। प्रदीप का शव लेकर जाट रेजीमेंट के जवान बुधवार की मध्यरात्रि को जैसे ही गांव में उसके घर पहुंचे तो कोहराम मच गया। प्रदीप की पत्नी छह माह की गर्भवती है। अंतिम संस्कार में लोगों ने उसकी पार्थिव देह पर पुष्प अर्पित किए। प्रदीप के पिता वीरेन सिंह सेना से वर्ष 2004 में हवलदार पद से सेवानिवृत हुए। उसकी पार्थिव देह को मुखाग्नि उस के बड़े भाई विष्णु ने दी। इस मौके पर तहसीलदार सोहन सिंह नरूका, एएसआई जगदीश सिंह, सरपंच सुभाष, शीशराम हवलदार, पूर्व सरपंच धर्मवीर फौजदार, चंद्रपाल सिनसिनवार आदि मौजूद थे।

पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल...बोली: हर दिन पूछते थे हाल

प्रदीप की मौत के बाद उसकी पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल है। वह कहती रही कि शायद 26 मई की रात आठ बजे ही ईश्वर ने पति से अंतिम बार बात करना तय किया था। उस दिन भी उन्होंने हाल चाल पूछने के बाद कहा था कि एक जून तक आ जाऊंगा। पूरे परिवार का ध्यान रखने के लिए कहते थे। बताते हैं कि मृतक का भाई फरीदाबाद में एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता है। उसकी बहन दिव्या की शादी हो चुकी है।

Meghshyam Parashar Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned