पहले पैसा...इन्हें नहीं संक्रमण की चिंता

भरतपुर. वायरस से संक्रमण की महामारी ने लोगों के आंसू निकाल दिए हैं।

By: pramod verma

Published: 29 Mar 2020, 07:33 PM IST

भरतपुर. वायरस से संक्रमण की महामारी ने लोगों के आंसू निकाल दिए हैं। विशेषकर गरीब तबके लोग, जिनकी दिनचर्या रोज कमाने और खाने पर निर्भर है लेकिन लॉक डाउन में काम नहीं है।

ऐसे में इनकी रसोई सरकार की पांच और एक हजार रुपए मिलने वाली पेंशन पर निर्भर है, जिसे निकालने के लिए इनके पास न एटीएम और न बैंकों में पर्ची भरने की स्थिति में हैं। इसलिए इन्हें अब ई-मित्र से ही सहारा नजर आ रहा है, जहां मुंह पर बिना मास्क लगाए इनकी कतार देखी जा सकती है जबकि संक्रमण से बचना है तो दूरी बनाने के साथ मास्क पहनना जरुरी है।

ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि कतार में लगे लोगों को अपनी और दूसरों के संक्रमण की फिक्र नहीं है। जबकि, ई-मित्र संचालक गुरमीत सिंह इन्हें बार-बार मुंह पर मास्क और दूरी बनाने की कहता रहा। लेकिन, लोग जल्दी के चक्कर में बिना मुंह ढक लाइन में लगे रहे।

इस स्थिति में मथुरा गेट गुलाल कुंड स्थित ई-मित्र की दुकान पर महिला व पुरुषों की लाइन देखी गई। यहां लोग पेंशन, बैंक में जमा राशि में से पैसे निकालने आए थे। हालांकि इनकी भी मजबूरी है जब कहीं पैसों का इंतजाम नहीं है तो खातों से थोड़ी बहुत राशि निकालकर ही गुजरा करेंगे।

pramod verma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned