scriptFrom where to give commission to MLA Awana | संवेदक बोले: जब कुछ बच नहीं रहा तो विधायक अवाना को कहां से दें कमीशन | Patrika News

संवेदक बोले: जब कुछ बच नहीं रहा तो विधायक अवाना को कहां से दें कमीशन

-सियासी सड़क: अब देवनारायण बोर्ड अध्यक्ष जोगिन्दर सिंह अवाना के विरोध में संवेदक
-कैबीनेट मंत्री विश्वेंद्र सिंह को दिया ज्ञापन

भरतपुर

Updated: April 11, 2022 09:34:34 pm

भरतपुर. नदबई विधायक व देवनारायण बोर्ड के अध्यक्ष जोगिन्दर सिंह अवाना व सार्वजनिक निर्माण विभाग के मंत्री भजनलाल जाटव के बीच चल रही सड़क निर्माण में गड़बड़ी को लेकर खींचतान अब दुबारा से सामने आ गई है। अब कुछ संवेदकों ने सोमवार को नदबई विधायक जोगिन्दर सिंह अवाना के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। संवेदकों ने मुखर्जी नगर में एक समाज के कार्यक्रम में शामिल होने आए कैबीनेट मंत्री विश्वेंद्र सिंह को ज्ञापन दिया और विधायक के खिलाफ नारेबाजी कर प्रदर्शन किया।
संवेदकों ने ज्ञापन में उल्लेख किया है कि सार्वजनिक निर्माण विभाग के मंत्री भजनलाल जाटव पर आज तक कोई भी किसी भी पक्ष या विपक्ष का व्यक्ति किसी भी तरह का कोई आरोप नहीं लगा सकता है। नदबई विधायक की ओर से जो भी आरोप मंत्री पर लगाए जा रहे हैं, वो बिल्कुल झूठे और निराधार है। लगता है कि विधायक खुद मंत्री नहीं बन पाए तो इससे दुखी होकर मंत्री पर आरोप लगा रहे हैं। भजनलाल जब से मंत्री बने हैं, तब से कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दे रहे हैं। संवेदक गुणवत्तापूर्वक कार्य कर रहे हैं। संवेदकों ने आरोप लगाया कि विधायक को कमीशन देना पड़ रहा है। यदि कोई सरकारी कर्मचारी विधायक को रुपये देने से इंकार कर देता है तो उसका तबादला करा दिया जाता है। जब से कांग्रेस सरकार में धड़ेबंदी हुई है तब से कांग्रेस सरकार ने अपने विधायकों को खुली छूट दे रखी है। इसी कारण नदबई विधायक संवेदकों पर दबाव बना रहे हैं और एक तरफा व्यवहार रखते हैं। अगर कमीशन देने से मना कर दिया तो सड़कों की जांच कराकर दबाव बना रहे हैं। प्रतिनिधिमंडल में करीब पांच से सात संवेदक शामिल थे।
संवेदक बोले: जब कुछ बच नहीं रहा तो विधायक अवाना को कहां से दें कमीशन
संवेदक बोले: जब कुछ बच नहीं रहा तो विधायक अवाना को कहां से दें कमीशन
यह है मामला

नदबई क्षेत्र में सड़क निर्माण कार्यों में गुणवत्ता की शिकायत आने के बाद विधायक जोगिन्द सिंह अवाना मामले से राज्य सरकार को अवगत कराया था। इसके लिए कुछ सड़कों के नमूने लेकर जांच को भेजे गए थे। जांच में अनियमितताएं सामने आने के बाद मुख्य अभियंता एवं अतिरिक्त सचिव सार्वजनिक निर्माण विभाग संजीव माथुर ने संबंधित अधिकारी व संवेदकों को नोटिस जारी किए थे, लेकिन कार्रवाई नहीं होने पर विधायक अवाना ने पीडब्ल्यूडी मंत्री भजनलाल जाटव पर संवेदकों को बचाने का आरोप लगाया था। इसके बाद मंत्री भजनलाल ने भी विधायक अवाना पर आरोप लगाए थे। अब संवेदक भी मंत्री भजनलाल जाटव के समर्थन में उतर आए हैं।
नगर विधायक भी उठा चुके हैं सवाल

नगर विधायक वाजिब अली ने भी कुछ दिन पहले अपने फेसबुक पेज पर लिखा था कि पीडब्लयूडी अधिकारियों की लापरवाही से विभाग के काम रुके हुए और अच्छे नहीं हो रहे हैं। वाजिब ने पेज पर कुछ फोटोज डालते हुए लिखा है कि 'ये तस्वीर देखिए और बताइए कि रोड अभी आधा बना है और उसकी हालत ये है तो आगे कैसे बनेगा।Ó वाजिब ने कहा कि गुलपाड़ा में अल्पसंख्यक हॉस्टल या सामुदायिक भवन का टेंडर हुए एक साल से ज्यादा हो गया, लेकिन अभी तक ठेकेदार ने गुलपाड़ा जाकर नहीं देखा है। सीकरी में मेरी मां ने बालिका आवास के लिए जमीन दान दी, लेकिन एक साल से अभी तक सिर्फ नींव ही भरी है। पीपीपी मोड़ पर बन रही खेरली-पहाड़ी रोड पर सीकरी में तीन किमी सीसी का निर्माण हुआ और अभी तक नाला नहीं बनाया गया है। नगर-नदबई के रोड की शिकायत लोग करते हैं और जांच में गुणवत्ता नहीं पाई गई। वाजिब अली ने नदबई विधायक जोगिन्दर सिंह अवाना के बयान से सहमत होते हुए कहा कि जांच में जो दोषी ठेकेदार हैं, उन पर सख्य कार्रवाई हो। वाजिब ने सवाल उठाया कि निश्चित ही आपके विभाग के अधिकारी आपको गुमराह कर रहे हैं।

इनका कहना है

-सड़कों की जांच में गड़बड़ी सामने आ गई तो अब चोरी उजागर होने पर आरोप लगाने वालों को जेल जाने का डर लग रहा है। बाकी इनमें से ज्यादातर लोग तो ऐसे हैं जो कि जिन्हें मैं जानता तक नहीं हूं। आरोप कोई भी लगा सकता है और साबित करके दिखाएं तो मैं कुछ भी करने को तैयार हूं। यह सब खुद को जेल जाने से बचाने का तरीका। बाकी सीएमओ के साथ विभाग में भी इनके खिलाफ कार्रवाई की तैयारी है। इनका समर्थन करने वाले जिम्मेदार को भी एक बार सच्चाई का साथ देना चाहिए। जिन ठेकेदारों ने आरोप लगाए हैं, वे तो नदबई में किसी काम से ही जुड़े नहीं है।
जोगिन्दर सिंह अवाना, विधायक नदबई

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ BJP में शामिल, दिल्ली में जेपी नड्डा ने दिलाई पार्टी की सदस्यताअलगाववादी नेता यासीन मलिक आतंकवाद से जुड़े मामले में दोषी करार, 25 मई को होगी अगली सुनवाईज्ञानवापी मस्जिद-श्रृंगार गौरी विवाद : वाराणसी कोर्ट की कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट की रोक, शुक्रवार को होगी सुनवाईउदयपुर नव संकल्प पर अमल: अब कांग्रेस भी बनेगी 'प्रोफेशनल', देशभर में 6500 पूर्णकालिक कार्यकर्ता नियुक्त करने की तैयारीअमृतसर से ISI के दो जासूस गिरफ्तार, पाकिस्तान भेजते थे भारतीय सेना से जुड़ी खुफिया जानकारीहरियाणा के झज्जर में फुटपाथ पर सो रहे मजदूरों को ट्रक ने कुचला, 3 की मौत 11 घायलAzam Khan gets interim bail : आजम खान को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत, 89वें केस में मिली अंतरिम जमानत'राज ठाकरे को कोई नुकसान पहुंचाएगा तो पूरा महाराष्ट्र जलेगा', मुंबई में पोस्टर लगाकर MNS ने दी चेतावनी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.